IIT Madras: अब बिना JEE पास किए, हासिल करें आईआईटीएम की डिग्री

Ramesh Pokhrial Nishank : सरकार ने शुरू किया प्रोग्रामिंग और डेटा साइंस की ऑनलाइन पढ़ाई का विकल्प, तीन स्तर के होंगे कोर्स

Updated: Jun-30, 2020, 07:32 PM IST

IIT Madras: अब बिना JEE पास किए, हासिल करें आईआईटीएम की डिग्री
courtesy: the hindu

केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय ने देश के नंबर 1 संस्थान आईआईटी मद्रास में प्रोग्रामिंग और डेटा साइंस में ऑनलाइन कोर्स शुरू करने का फैसला लिया है। प्रोग्रामिंग और डेटा साइंस का कोर्स करने के इच्छुक छात्र अब आईआईटी मद्रास में प्रवेश ले सकेंगे। मंगलवार को मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने इसकी जानकारी दी। आईआईटी मद्रास में प्रोग्रामिंग और डेटा साइंस का कोर्स तीन स्तरों का होगा।

कौन कौन से कोर्स शुरू होंगे ?
आईआईटी मद्रास में प्रोग्रामिंग और डेटा साइंस का ऑनलाइन कोर्स बीएससी प्रोग्राम के तहत शुरू किया जाएगा। कोर्स तीन स्तरों का होगा। ऑनलाइन कोर्स में एक वर्ष का डिप्लोमा, दो वर्षों का फाउंडेशन कोर्स और तीन वर्षीय बीएससी की डिग्री दी जाएगी।

कौन प्रवेश ले पाएगा ? 
बीएससी प्रोग्राम में कोई भी बारहवीं उत्तीर्ण छात्र प्रवेश ले सकता है। इसके अलावा कोई भी छात्र जिसने स्नातक स्तर के कोर्स में प्रवेश ले रखा है, वह भी आईआईटी मद्रास के इस ऑनलाइन कोर्स में दाखिला ले सकता है। खास बात यह है कि आईआईटी मद्रास में काम करने वाले भी इस कोर्स में दाखिला ले सकते हैं।

अब कोई भी छात्र आईआईटी की डिग्री पा सकेगा 
केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने इस प्रोग्राम को लॉन्च करने के अवसर पर अपनी खुशी ज़ाहिर करते हुए कहा है कि अमूमन सीटों की कमी होने के कारण देशभर के अधिकतर छात्रों के लिए आईआईटी में प्रवेश पाना काफी मुश्किल होता है, लेकिन इस ऑनलाइन कोर्स को शुरू करते हुए मुझे काफी प्रसन्नता महसूस हो रही है कि अब अन्य छात्रों को भी आईआईटी से पढ़ने का अवसर प्राप्त हो सकेगा। छात्र अब बिना प्रवेश परीक्षा पास किए भी आईआईटी की डिग्री हासिल कर पाएंगे। इसके अलावा केंद्रीय मंत्री ने प्रोग्रामिंग और डेटा साइंस की महत्ता पर बात करते हुए कहा है कि इसकी मांग निकट भविष्य में बहुत बढ़ने वाली है।ऐसे में बड़ी संख्या में इस क्षेत्र में पेशेवरों को तैयार करने की आईआईटी मद्रास की पहल काफी सराहनीय है।