दिग्विजय सिंह का खंडवा दौरा रद्द, राज्य सरकार ने नहीं दी अनुमति, कांग्रेस ने लगाया दोहरे मापदंड का आरोप

कांग्रेस के जनजागरण अभियान का राज्य सरकार ने परमिशन रद्द किया, पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह करने वाले थे पदयात्रा, कांग्रेस बोली- क्या सिर्फ विपक्ष के कार्यक्रमों से फैलता है कोरोना, CM क्यों कर रहे हैं समारोह

Updated: Jan 06, 2022, 03:59 PM IST

दिग्विजय सिंह का खंडवा दौरा रद्द, राज्य सरकार ने नहीं दी अनुमति, कांग्रेस ने लगाया दोहरे मापदंड का आरोप

भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार ने खंडवा में होने वाले कांग्रेस के जनजागरण अभियान पर रोक लगा दिया है। सरकार ने कोरोना वायरस का हवाला देते हुए इस आयोजन की परमिशन रद्द कर दिया है। इस कार्यक्रम में पूर्व सीएम व दिग्गज कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह पदयात्रा करने वाले थे। कार्यक्रम पर रोक लगाए जाने पर कांग्रेस ने पूछा है कि क्या सिर्फ विपक्ष के कार्यक्रमों से कोरोना फैलता है?

रिपोर्ट्स के मुताबिक गुरुवार देर रात दिग्विजय सिंह खंडवा जिले के पंधाना विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत ग्राम मलगांव पहुंचने वाले थे। यहां शुक्रवार सुबह प्रभात फेरी के बाद वे 14 किलोमीटर की पदयात्रा करने वाले थे। हालांकि, कार्यक्रम के ठीक पहले प्रशासन ने परमिशन रद्द कर दिया। परमिशन रद्द करने का कारण कोरोना के बढ़ते प्रकोप को बताया गया। 

यह भी पढ़ें: गुफा मंदिर में सीएम ने किया महामृत्युंजय मंत्र का जाप, वीडी शर्मा ने की महाकाल की पूजा

कांग्रेस ने सिंह का दौरा परमिशन रद्द करने को लेकर गंभीर सवाल उठाए हैं। कांग्रेस के सीनियर प्रवक्ता केके मिश्रा ने पूछा है की क्या कोरोना सिर्फ विपक्ष के कार्यक्रमों से फैलता है? मिश्रा ने कहा कि, 'कोरोना गाइडलाइंस को लेकर कांग्रेस पार्टी सरकार के हर कदम के साथ है। लेकिन सरकार को भी अपना ईमानदार चरित्र पेश करना चाहिए। क्योंकि ज्यादा संक्रमण बीजेपी के नेता और कार्यकर्ता ही प्रदेश में फैला रहे हैं और इसमें खुद मुख्यमंत्री सहयोगी हैं। क्या सीएम और भाजपा नेताओं के कार्यक्रम से कोरोना नहीं फैलता? उनपर सरकार रोक क्यों नहीं लगा रही है।'

बता दें कि तेजी से बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच प्रदेशभर में अन्य समारोह जोर-शोर से चल रहे हैं। राजधानी भोपाल में ही हैंडलूम एक्सपो व अन्य मेले लग रहे हैं जिसमें हजारों लोगों की भीड़ लगती है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कल ही भोपाल स्थित आरजीपीवी यूनिवर्सिटी में एक सार्वजनिक समारोह को संबोधित करने पहुंचे थे। सीएम शिवराज समेत अन्य भाजपा नेताओं द्वारा गुरुवार को भी महामृत्युंजय मंत्र जाप के लिए सार्वजनिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। 

इसके अलावा भोपाल स्थित भारत भवन में बीजेपी नेता व पूर्व महापौर आलोक शर्मा द्वारा आयोजित दो दिवसीय संगीत समारोह का भी कल ही समापन हुआ है। इस कार्यक्रम में खुद पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर शामिल हुई थी। इसी हफ्ते इंदौर में भी 6 दिवसीय मालवा उत्सव का समापन हुआ है, जिसमें हजारों की संख्या में लोग प्रतिदिन शामिल हो रहे थे। यहां कोरोना गाइडलाइंस का उल्लंघन अखबारों की सुर्खियां भी रही लेकिन सरकार ने कोई प्रतिबंध नहीं लगाया। ऐसे में कांग्रेस के जनजागरण अभियान पर रोक लगाने के बाद कई सवाल खड़े हो रहे हैं।