MP विधानसभा का बजट सत्र अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, आसंदी के सामने लेटे कांग्रेस विधायक

25 मार्च तक चलनेवाली मध्य प्रदेश विधानसभा के सत्र को एक हफ़्ते पहले ही किया स्थगित, सदन में जीतूँ पटवारी को नोटिस पर कांग्रेस विधायक ग़ुस्से में

Updated: Mar 16, 2022, 04:39 PM IST

MP विधानसभा का बजट सत्र अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, आसंदी के सामने लेटे कांग्रेस विधायक

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा का बजट सत्र बुधवार को अचानक अनिश्चितकाल तक के लिए स्थगित कर दिया गया। जबकि बजट सत्र की कार्यवाही 25 मार्च तक चलनी थी। सरकार ने बुधवार को ही सभी विधायी कामकाज निपटाकर आनन फानन में सत्रावसान कर दिया।

बुधवार को सदन की कार्यवाही शुरू होने के बाद गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने प्रस्ताव दिया था कि नियमों को शिथिल करते हुए आज ही सभी कार्यवाही पूर्ण की जाएं। यह प्रस्ताव कांग्रेस विधायकों के विरोध और हंगामे के बीच सदन में पास कर दिया गया। विरोध में कांग्रेस विधायकों ने आसंदी के पास आकर प्रदर्शन किया। नाराजगी में कुछ विधायक जैसे बैजनाथ कुशवाहा, सुरेश राजे आदि आसंदी के सामने आकर लेट गए। 

यह भी पढ़ें: जो कटे रहे जड़ों‌ से, वे वटवृक्षों को उगना सिखा रहे हैं, कपिल सिब्बल पर बरसे सीएम भूपेश बघेल

इस दौरान कांग्रेस विधायक सज्जन वर्मा ने कहा कि विधानसभा के भीतर लोकतंत्र का अपमान हो रहा है। हम एक-एक विषय पर चर्चा चाहते हैं, लेकिन सरकार चर्चा से भाग रही है। बजट सत्र तय समय से करीब एक सप्ताह पहले खत्म कर दिया गया। यही नहीं कांग्रेस विधायकों ने विधायक और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी को नोटिस देने पर भी कड़ा विरोध जताया। गोविंद सिंह और सज्जन वर्मा ने विरोध करते हुे कहा कि राज्यपाल के अभिभाषम का विरोध सदन के बाहर करने पर इस प्रकार के नोटिस का कोई मतलब नहीं। यह सरकार के दबाव में दी गयी नोटिस है। सज्जन वर्मा ने कहा कि जीतू पटवारी को सदन के नियमों की परिधि से बाहर जाकर नोटिस दिया है, इसके खिलाफ कांग्रेस अविश्वास प्रस्ताव लाएगी। 

बता दें कि प्रश्नकाल के बाद विपक्षी दल कांग्रेस ने 'द कश्मीर फाइल्स' फिल्म का मुद्दा उठाया था। सदन में दोनों पक्षों के बीच तीखी नोंक-झोंक भी हुई। इस हंगामे के बीच ही अध्यक्ष गिरीश गौतम ने कार्य सूची में शामिल सभी कार्य और बजट संबंधित कार्य निपटा दिए। हालांकि जब सत्र निपटाने की कवायद चल रही थी तो सदन में लगातार हंगामा चलता रहा और बजट सत्र का तय समय से करीब एक सप्ताह पहले ही अवसान हो गया।