आंध्र प्रदेश: जिले का नाम बदलने पर मचा बवाल, भीड़ ने मंत्री के घर में लगाई आग

प्रदर्शनकारी भीड़ ने मंगलवार को राज्य के परिवहन मंत्री पी विश्वरूप के घर को आग के हवाले कर दिया, हालांकि उन्हें और घर के अन्य सदस्यों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था

Updated: May 25, 2022, 08:57 AM IST

आंध्र प्रदेश: जिले का नाम बदलने पर मचा बवाल, भीड़ ने मंत्री के घर में लगाई आग

आंध्र प्रदेश में एक जिले का नाम बदले जाने को लेकर बवाल मचा हुआ है। जिले का नाम बदले जाने से नाराज लोगों ने उग्र प्रदर्शन और तोड़फोड़ शुरू कर दी है। प्रदर्शनकारी भीड़ ने एक विधायक और जगन मोहन रेड्डी सरकार में परिवहन मंत्री के घर तक को आग के हवाले कर दिया। मंगलवार को हुई इस हिंसा के लिए सत्तारूढ़ YSRCP ने विपक्षी दल तेलुगू देशम पार्टी को जिम्मेदार करार दिया है।

दरअसल, आंध्र प्रदेश के नवगठित जिले कोनासीमा का नाम बदलकर बीआर आंबेडकर कोनासीमा जिला करने के प्रस्ताव के खिलाफ मंगलवार को जिला मुख्यालय पर लोगों ने जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया, जिसके बाद प्रदर्शनकारियों ने विधायक पोन्नाडा सतीश और परिवहन मंत्री मंत्री पी विश्वरूप के घर में भी आग लगा दी। गनीमत रही कि इस दौरान उनके घर के सभी सदस्यों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था।

यह भी पढ़ें: बच्चों के लिए खिलौना जमा करने निकले सीएम शिवराज, ठेला लेकर लोगों से मांगने पहुंचे भीख

बता दें कि बीते 4 अप्रैल को नए कोनसीमा जिले को तत्कालीन पूर्वी गोदावरी से अलग किया गया था। पिछले हफ्ते, राज्य सरकार ने एक प्रारंभिक अधिसूचना जारी कर कोनसीमा का नाम बदलकर बी आर अंबेडकर कोनसीमा जिले के रूप में करने का प्रस्ताव दिया और लोगों से आपत्तियां आमंत्रित की। यह फैसला कई संगठनों को नागवार गुजरा और वे विरोध पर उतर गए। मंगलवार को ये विरोध हिंसा में तब्दील हो गई।

प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के वाहनों और बसों को भी निशाना बनाया और उन्हें भी आग के हवाले कर दिया। इस हिंसा को लेकर जिले के एसपी के सुब्बा रेड्डी ने बताया कि कई पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस वाहन और एक निजी बस में भी आग दी। राज्य के गृह मंत्री तनती वनिता ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि इस घटना में 20 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। हम घटना की गहन जांच करेंगे और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।