Live: पांच राज्यों में चुनावों का ऐलान, 10 फरवरी से शुरू होंगे चुनाव, 10 मार्च को आएंगे नतीजे

पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में होने हैं विधानसभा चुनाव, कोविड-19 प्रोटोकॉल का साथ होगा चुनाव

Updated: Jan 08, 2022 06:08 PM IST

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने पांच राज्यों में आगामी विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया है।। मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा है कि पांच राज्यों के चुनाव 7 चरण में होंगे। 10 फरवरी से चुनाव की शुरुआत होगी और अगले महीने 10 मार्च को नतीजे आएंगे।

10 फरवरी से चुनाव शुरू, 10 मार्च को नतीजे

चुनाव आयोग के मुताबिक पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव 10 फरवरी से शुरु होंगे और 10 मार्च को इसके नतीजे सामने आएंगे। पहला चरण का चुनाव 10 फरवरी को उत्तर प्रदेश में, दूसरा चरण 14 फरवरी को मणिपुर के अलावा अन्य सभी चार राज्यों में होंगे। तीसरा चरण 20 फरवरी, चौथा चरण 23 फरवरी, पांचवां चरण 27 फरवरी, छठा चरण 3 मार्च को और सातवां चरण 7 मार्च को। 

CEC का शायराना आंदाज

कोरोना से लड़ाई के लिए प्रेरित करने हुए मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने शायराना अंदाज में कहा, यकीन हो तो कोई भी रास्ता निकलता है, हवा की ओट लेकर भी चिराग जलता है। उन्होंने बताया कि डोर टू डोर कैंपेन के लिए सिर्फ 5 लोगों की ही अनुमति दी गई है।

राजनीतिक रैलियों पर रोक

चुनाव आयोग ने कहा है कि 15 जनवरी तक कोई राजनीतिक रैली, पदयात्रा, रोड़ शो, साइकल यात्रा अथवा बाइक रैली पर रोक लगाई गई है। कमीशन के फैसले के बाद इसपर आगे विचार किया जाएगा। 

गोवा में 95 फीसदी लोगों ने ली दोनों डोज

CEC के मुताबिक गोवा के 95 फीसदी मतदाताओं ने दोनों डोज ले ली है। उत्तराखंड के 83 फीसदी मतदाता दोनों डोज ले चुके हैं। जबकि उत्तरप्रदेश के 52 फीसदी, पंजाब के 46 फीसदी और मणिपुर के 57 फीसदी लोग पूरी तरह वैक्सीनेटेड हैं। कुल मिलाकर सभी राज्यों में 9 करोड़ मतदाता पूरी तरह वैक्सीनेटेड हैं। मतदान का समय भी एक घंटे बढ़ाया गया है।

शिकायत के लिए See Vigil ऐप

मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत के लिए भी See Vigil ऐप बनाई गई है जिस पर फोटो या वीडियो शेयर करने के बाद 100 मिनट के भीतर कार्रवाई की जाएगी।

मतदान केंद्रों की संख्या में 16% वृद्धि

CEC ने कहा है कि मतदान में लिंगानुपात में सुधार हमारे लिए महत्वपूर्ण है। कोविड संक्रमण से सुरक्षा के मद्देनजर सभी मतदान केंद्रों पर मास्क, सेनेटाइजर आदि उपलब्ध कराए जाएंगे। हमने एक मतदान केंद्र पर मतदाताओं की अधिकतम संख्या 1500 से घटाकर अब 1250 करने का फैसला किया है। हमने 2017 के चुनावों की तुलना में इस बार मतदान केंद्रों की संख्या में 16% की वृद्धि की है। पांच राज्यों में अब कुल मतदान केंद्रों की संख्या 2,15,368 होगी।

40 लाख खर्च कर सकते हैं कैंडिडेट: CEC

मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया है कि उत्तर प्रदेश, पंजाब और उत्तराखंड में उम्मीदवार 40 लाख रुपए खर्च कर सकेंगे। पहले यह 28 लाख रुपए था जिसे बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। वहीं गोवा और मणिपुर में यह राशि 28 लाख रुपए ही तय की गई है। मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा चुनावों में पैसों के दुरुपयोग पर खास नजर रखी जाएगी।

यूपी के 403 सीटों पर होंगे चुनाव: CEC

CEC चंद्रा ने बताया है कि उत्तर प्रदेश के 403, पंजाब के 117, उत्तराखंड के 70, मणिपुर के 60 और गोवा के 40 सीटों पर चुनाव होंगे।

18.3 करोड़ मतदाता करेंगे मतदान

मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा ने बताया है कि पांच राज्यों के 18.3 करोड़ मतदाता इस चुनाव प्रक्रिया में हिस्सा लेकर अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे।

सुशील चंद्रा कर रहे हैं प्रेस कॉन्फ्रेंस

देश के मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा दिल्ली के विज्ञान भवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं। थोड़ी देर में होगा यूपी, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब और मणिपुर विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान।