भोपाल: मार्च महीने में 90 कोरोना शवों का हुआ अंतिम संस्कार, लेकिन सरकारी रिकॉर्ड में केवल 13 लोगों की हुई कोरोना से मौत

बीते तीन दिनों में भोपाल के श्मशान और कब्रिस्तान में 31 कोरोना शवों की अंत्येष्टि हुई, लेकिन सरकारी रिकॉर्ड के मुताबिक इस दौरान केवल 3 लोग ही कोरोना के कारण मरे

Updated: Mar 31, 2021, 10:07 AM IST

भोपाल: मार्च महीने में 90 कोरोना शवों का हुआ अंतिम संस्कार, लेकिन सरकारी रिकॉर्ड में केवल 13 लोगों की हुई कोरोना से मौत
Photo Courtesy: Zee News

भोपाल। कोरोना से मरने वाले लोगों के आंकड़े में एक बड़े फर्जीवाड़े की बू आ रही है। भोपाल में कोरोना से मरने वाले मरीजों के सरकारी आंकड़ों का साथ राजधानी के श्मशान और कब्रिस्तान नहीं दे रहे हैं। मार्च महीने में राजधानी भोपाल में कुल 90 कोरोना शवों का अंतिम संस्कार किया गया। लेकिन सरकारी रिकॉर्ड में केवल 13 लोगों की कोरोना के कारण हुई मौत का आंकड़ा दर्ज है। 

बीते तीन दिनों में भोपाल के श्मशान और कब्रिस्तान में अकेले 31 लोगों की अंत्येष्टि हुई। जबकि सरकारी रिकॉर्ड के मुताबिक बीते तीन दिनों में तीन लोग ही कोरोना के कारण मरे हैं। भोपाल के भदा श्मशान घाट, झदा कब्रिस्तान और सुभाष नगर श्मशान घाट में कोरोना मरीजों की अंत्येष्टि होती है। हिंदी के एक प्रमुख अख़बार ने भोपाल के श्मशान और कब्रिस्तान में अंत्येष्टि किए गए कोरोना के शवों की सूची प्रकाशित की है। जिससे पता चलता है कि सरकारी आंकड़ा और अंत्येष्टि के लिए लाए जा रहे शवों में ज़मीन आसमान का फर्क है। 

उदाहरण के तौर पर मंगलवार यानी 30 मार्च को भोपाल में कोरोना के कारण केवल एक व्यक्ति की मौत हुई। जबकि भोपाल में मंगलवार को ही कुल 18 कोरोना शवों का अंतिम संस्कार किया गया। श्मशान कब्रिस्तान और सरकार के ये बेमेल आंकड़े सरकारी व्यवस्था के गैर जिम्मेदाराना रवैए की तस्दीक कर रहा है। 

हालांकि सीएमएचओ प्रभाकर तिवारी ने हिंदी अख़बार को बताया कि कोरोना से भी मृत्यु का डाटा अस्पताल द्वारा मुहैया कराई गई जानकारी के आधार पर तैयार किया जाता है। लिहाज़ा विश्रामघाट और कब्रिस्तान की सूची पर कुछ कहा नहीं जा सकता। 

उधर स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़े के मुताबिक प्रदेश भर में 2173 कोरोना संक्रमण के नए मामले सामने आए। सबसे ज़्यादा 628 नए मामले इंदौर में आए। जबकि भोपाल में 497 नए मामले सामने आए। इसके बाद जबलपुर में 148 और खरगोन में 73 नए मामले सामने आए। सरकारी विभाग के आंकड़े के मुताबिक मंगलवार को कोरोना के कारण दस लोगों की मौत हुई। प्रदेश भर में कोरोना के कुल 16,034 एक्टिव केस हो गए हैं।