MP में आफत की बारिश, 29 जिलों में अति बारिश का अलर्ट, उमरिया में नहाते वक्त बह गया पुलिसकर्मी

मध्य प्रदेश में बारिश का सिस्टम फिर से एक्टिव हो गया है। राजधानी भोपाल, नर्मदापुरम, विदिशा, छिंदवाड़ा और रायसेन समेत प्रदेश के कई हिस्से में मूसलाधार बारिश हो रही है, राज्यभर में नदी नाले उफान पर हैं।

Updated: Aug 21, 2022, 11:42 AM IST

MP में आफत की बारिश, 29 जिलों में अति बारिश का अलर्ट, उमरिया में नहाते वक्त बह गया पुलिसकर्मी

भोपाल। मध्य प्रदेश में बारिश का सिस्टम एक बार फिर एक्टिव हो गया है। राजधानी भोपाल, नर्मदापुरम, विदिशा, छिंदवाड़ा और रायसेन समेत प्रदेश के कई हिस्से में शनिवार से मूसलाधार बारिश हो रही है। बारिश के कारण राज्यभर में अधिकांश नदी नाले उफान पर हैं। मौसम विभाग ने भोपाल समेत 29 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। 

भोपाल में रविवार सुबह साढ़े पांच बजे से ही कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश हो रही है। भोपाल में अब तक 31 इंच से ज्यादा बारिश हो चुकी है। यह सामान्य से 4 इंच ज्यादा है। भोपाल के तीन डैम कलियासोत, भदभदा और केरवा के फिर गेट खुल गए हैं। रातभर से जारी बारिश के बाद कलियासोत के 13 में से 2, भदभदा के 11 में से एक और केरवा के आठ में से 5 गेट खुल गए। दोपहर बाद और भी गेट खुल सकते हैं।

यह भी पढ़ें: महाकाल थाली पर घिरा Zomato, मंदिर के पुजारियों ने जताई आपत्ति, ऋतिक रोशन के खिलाफ कार्रवाई की मांग

राजधानी से सटे नर्मदापुरम जिले में भी शनिवार रात से बारिश जारी है। शहर में भी रात 1 से बजे झमाझम बारिश जारी है। तवा का जलस्तर बढ़ने पर 3 गेट रात 11 बजे से खोले दिए गए। जिसकी संख्या अब बढ़ाकर 5 कर दी गई। सभी पांच गेटों को 7-7 फीट तक खोला गया है। डैम के गेटों से 57,500 क्यूसेक पानी डिस्चार्ज किया जा रहा है। वर्तमान में डैम का जलस्तर 1162.10 फीट है।

उधर उमरिया के महानदी पर बने करहिया डैम में नहाने गया 25 वर्षीय आरक्षक प्रीतम बैगा तेज बहाव में बह गया। सूचना लगते ही चंदिया पुलिस मौके पर पहुंची और आरक्षक की तलाश में जुट गई। नदी उफान में होने के कारण आरक्षक को खोजने में दिक्कत हो रही है। मौके पर SDRF की टीम और अधिकारी पहुंच गए है। शनिवार दोपहर को हुए इस हादसे का वीडियो किसी ने बना लिया, जो अब वायरल हो रहा है। उधर जिले में लगातार हो रही बारिश के बाद जुहला डेम के 5 गेट खोले गए हैं। यहां 36 घंटों में 110 मिमी हो बारिश चुकी है।

देवास में भी बारिश के बाद आम जनजीवन अस्त व्यस्त दिख रहा है। यहां लोग जिंदगी हथेली पर रखकर नदी पार करने जाते हैं। देवास ज़िले के दुर्गापुर गाँव की से ऐसा ही मामला सबने आया हैं। वीडियो में देखा जा सकता है कि ग्रामीण उफनते हुए नालों में डूब कर अंतिम संस्कार के लिये जा रहे थे।