ईद पर MP के बुरहानपुर में थी माहौल बिगाड़ने की साजिश, हिंदू युवक ने तोड़ी भगवान की मूर्ति, सामने आया BJP कनेक्शन

चांद रात को बुरहानपुर में शांति भंग करने की नीयत से मालीवाड़ा हनुमान मंदिर में मूर्ति को क्षतिग्रस्त कर दिया गया, सीसीटीवी फुटेज से हुआ पर्दाफाश, हिंदू युवक ने तोड़ी थी प्रतिमा, बवाल बढ़ने पर पुलिस ने बताया मनोरोगी

Updated: May 05, 2022, 02:52 PM IST

ईद पर MP के बुरहानपुर में थी माहौल बिगाड़ने की साजिश, हिंदू युवक ने तोड़ी भगवान की मूर्ति, सामने आया BJP कनेक्शन

बुरहानपुर। मध्य प्रदेश के बुरहानपुर में ईद और परशुराम जयंती के मौके पर माहौल बिगाड़ने की कोशिश की गई थी। हालांकि, स्थानीय लोगों की तत्परता से कोई बड़ी घटना नहीं हुई। दरअसल, यहां एक हिंदू शख्स ने शांति भंग करने की नीयत से हनुमान मंदिर की मूर्ति को खंडित कर दिया था। हालांकि, सीसीटीवी फुटेज की मदद से मामले का पर्दाफाश हो गया और आरोपी पुलिस के गिरफ्त में है। इस मामले में बीजेपी कनेक्शन भी सामने आया है। बताया जा रहा है कि आरोपी एक बीजेपी नेता का भतीजा है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक दो मई को बुरहानपुर शहर के मालीवाड़ा स्थित हनुमान मंदिर में मूर्ति को क्षतिग्रस्त किया गया था। आरोपी ने यहां हनुमान प्रतिमा का अंगभंग किया और एक अन्य मूर्ति को भी खंडित किया। मंदिर प्रांगण में लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद से आरोपी की पहचान हो गई और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। मंदिर में तोड़फोड़ करने वाले शख्स की पहचान सतीश चौहान के रूप में है। 28 वर्षीय सतीश बीजेपी के बड़े नेता का भतीजा बताया जा रहा है। बुधवार को पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया जहां से उसे खंडवा जेल भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें: जहां कांग्रेस की सीट, वहां कराए जा रहे हैं दंगे, कांग्रेस नेताओं ने BJP पर लगाए गंभीर आरोप

यह मामला तब तूल पकड़ा जब बुधवार को कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने राजधानी भोपाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर घटना को लेकर सवाल उठाये। उन्होंने कहा कि यह घटना और आरोपी के घृणित चेहरे ने भाजपाई चरित्र को तार-तार कर दिया है। यदि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर भाजपा नेता का रिश्तेदार आरोपी नहीं पकड़ा जाता तो शहर में अक्षय तृतीया, भगवान परशुराम प्रकटोत्सव और ईद का पर्व भयंकर दंगों में तब्दील हो सकता था।