मुर्गा-दारू स्पॉन्सर करने से मना करने पर शराबखोरों ने तीन युवकों को पेड़ से बांधकर पीटा

मध्यप्रदेश के सिहोर में शराबियों ने शराब पीने के लिए रुपये मांगे, नही देने पर तीन युवकों को पेड़ से बांधकर बेरहमी से की पिटाई, एफआईआर दर्ज

Updated: Jul 14, 2021, 12:05 PM IST

मुर्गा-दारू स्पॉन्सर करने से मना करने पर शराबखोरों ने तीन युवकों को पेड़ से बांधकर पीटा

सीहोर। मध्यप्रदेश के आष्टा से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां शराबियों ने तीन युवकों को पेड़ से बांधकर बेरहमी से पिटाई की। युवकों का कसूर सिर्फ इतना था कि उन्होंने आरोपियों को शराब पिलाने से मना कर दिया था। मामले पर आष्टा पुलिस ने आरोपी शरबखोरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक आष्टा के धनाना गांव के निवासी 22 वर्षीय अरविंद अपने दो चचेरे भाइयों अजय और पप्पू के साथ मंगलवार को कपड़े खरीदने आष्टा आया था। यहां तीनों भाइयों ने अपने-अपने कपड़े खरीदे और घर के लिए निकल गए। रास्ते में भोपाल नाका से सटे दरगाह के पास उनके प्लेटिना मोटरसाईकिल का पेट्रोल खत्म हो गया।

यह भी पढ़ें: उज्जैन में खुदाई के दौरान मिले हजारों साल पुराने मंदिर के अवशेष, 11वीं शताब्दी की कई मूर्तियां निकलीं

यहां से वे बाइक को धक्का देकर पेट्रोल पंप जाने लगे। इसी दौरान शाम करीब 5 बजे जब वे गाड़ी को धकेलते हुए शराब की दुकान के पास से गुजर रहे थे तब रोड के दूसरे साईड काछीपुरा निवासी भरत कुशवाहा दिखा जो अपने अन्य दो दोस्तों के साथ बैठकर शराब पी रहा था। भरत ने यहीं से आवाज देकर अरविंद को अपने पास बुलाया और दारू-मुर्गा के लिए डेढ़ हजार रुपए की डिमांड रख दी। 

इस दौरान पैसे देने से इनकार करने पर भरत और उसके शराबी साथियों ने आरविंद और उसके भाइयों के साथ बदतमीजी करन शुरू कर दिया। विरोध करने पर तीनों को पेड़ से बांधकर भरत और उसके साथियों ने बेरहमी से पिटाई की। घटना की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे हैं। 

यह भी पढ़ें: तीसरा बच्चा हुआ तो आप नौकरी के लायक ही नहीं- ग्वालियर हाईकोर्ट का बड़ा फैसला

इस पूरे घटनाक्रम को लेकर आष्टा टीआई सिद्धार्थ प्रियदर्शन ने बताया कि पीड़ितों के शिकायत पर पुलिस ने आरोपी भरत और दो अन्य के खिलाफ आईपीसी की धारा 327, 294, 323, 506 और एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा पंजीबद्ध कर लिया है। पुलिस ने दबिश डालकर आरोपी भरत को गिरफ्तार कर लिया है जबकि उसके दोनों साथी फरार हैं।