मोहनखेड़ा आचार्य ऋषभचंद्र सूरीश्वर का देवलोक गमन, जन्मदिवस से एक दिन पहले ली अंतिम सांसें

इंदौर के अरबिंदो अस्पताल में भर्ती थे आचार्य, आज शाम पांच बजे कोविड प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए होगा अंतिम संस्कार, कई नेताओं ने जताया दुख

Updated: Jun 04, 2021, 10:12 AM IST

मोहनखेड़ा आचार्य ऋषभचंद्र सूरीश्वर का देवलोक गमन, जन्मदिवस से एक दिन पहले ली अंतिम सांसें
Photo Courtesy: Amar Ujala

इंदौर। धार जिले के मोहनखेड़ा महातीर्थ के ज्योतिषाचार्य आचार्य ऋषभचंद्र सूरीश्वर का देवलोक गमन हो गया है। आचार्य ने इंदौर स्थित अरबिंदो हॉस्पिटल में बुधवार देर रात करीब 1 बजकर 44 मिनट पर आखिरी सांसें ली। मोहनखेड़ा तीर्थ से जारी पत्र के अनुसार, आचार्यश्री ऋषभचंद्र सूरीश्वरजी का शुक्रवार को जन्मदिन था, यानी जन्मदिवस से एक दिन पहले उनका निधन हो गया।

भगवंत ऋषभचंद्र सूरीश्वर के निधन से उनके अनुवाईयों में शोक की लहर दौड़ गई है। मध्यप्रदेश के दिग्गज राजनेताओं ने उनकी निधन पर शोक जताया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया, 'श्रीमोहनखेड़ा तीर्थ के प्रसिद्ध संत, परम पूज्य, श्री ऋषभ देव महाराज जी ने आज अपना भौतिक शरीर त्याग दिया। वे धर्म, सेवा और कल्याण की पुण्य ज्योत थे। उनके मंगलकारी विचार हमें मानवता और धर्म की सेवा के लिए प्रेरित करते रहेंगे। उनका आशीर्वाद सदैव बना रहे! विनम्र श्रद्धांजलि।' 

पीसीसी चीफ कमलनाथ ने ट्वीट किया, 'श्री मोहनखेड़ा तीर्थ के परमपूज्य संत आचार्य श्री ऋषभचंद्र सूरीश्वर जी महाराज के देवलोक गमन का समाचार बेहद पीड़ादायक , स्तब्ध व व्यथित करने वाला है। आचार्य श्री के मानवता , परोपकार , धर्म व समाज हित में किये गये सेवा कार्य कभी भुलाये नहीं जा सकते है। उनका निधन मानवता व सम्पूर्ण समाज के लिये एक अपूरणीय क्षति है।' 

राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया, 'आचार्य देवेश श्रीमद्विजय ऋषभचन्द्र सूरीश्वर जी का देवलोक गमन हो गया है।वे संत होने के साथ समाज सेवी भी थे और नेक इंसान भी थे। हमारे लगभग ३० वर्षों से संबंध थे। उनके सादर चरणों में नमन भावभीनी श्रद्धांजली। ॐ शांति ॐ शान्ति ॐ शांति" 

बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट किया, 'मोहनखेड़ा तीर्थ के संत, परम पूज्य गुरुदेव आचार्य श्री ऋषभचन्द्र विजय जी म.सा. का देवलोक गमन अत्यंत दुःखद है। सर्व समाज के लिए ये एक अपूरणीय क्षति है। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे। मेरी विनम्र श्रद्धांजलि।' 

जानकारी के मुताबिक आचार्य श्री अंतिम संस्कार आज ही शाम 5 बजे मोहनखेड़ा में होगा। अंतिम संस्कार के चढ़ावे आनलाइन होने की संभावना है। त्रिस्तुतिक जैन श्री संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंपालाल वर्धन भी मोहनखेड़ा पहुंच गए हैं। श्री आदिनाथ राजेंद्र जैन ट्रस्ट मोहन खेड़ा मैनेजिंग ट्रस्टी सुजान मल जैन ने बताया है कि तीर्थ पर उन्हें पाट पर स्थापित कर दिया गया है।