सागर पुलिस की कस्टडी में छात्र की मौत, पिता बोले- उसे पीट पीटकर मार डाला, 3 पुलिसकर्मी लाइन अटैच

पुलिस का दावा है कि 19 वर्षीय कृतेश पटेल ने खुद ही फांसी लगा ली, पटेल अपनी प्रेमिका के साथ भोपाल भाग गया था, चूंकि लड़की नाबालिग है इसलिए पुलिस ने अपहरण का केस बनाकर उसे गिरफ्तार कर लिया था।

Updated: Nov 02, 2022, 07:47 PM IST

सागर पुलिस की कस्टडी में छात्र की मौत, पिता बोले- उसे पीट पीटकर मार डाला, 3 पुलिसकर्मी लाइन अटैच

सागर। मध्य प्रदेश में एक बार फिर से कस्टोडियल डेथ का मामला सामने आया है। सागर जिले में पुलिस कस्टडी में एक 19 वर्षीय छात्र की मौत हो गई। मृतक के पिता ने इसे हत्या करार दिया है। पीड़िता परिवार का आरोप है कि पुलिस ने उसे पीट-पीटकर मार डाला। मामला बढ़ने के बाद आनन-फानन में आरोपी तीन पुलिसकर्मियों को लाइन अटैच कर दिया गया है।

मामला राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत के विधानसभा क्षेत्र सुरखी अंतर्गत जैसीनगर थाना क्षेत्र के बम्होरी गांव का है। बताया जा रहा है कि मृतक पड़ोस की रहने वाली नाबालिग लड़की का प्रेमी था। लड़की राजपूत समुदाय से थी और लड़का पटेल। दोनों घर छोड़कर भाग गए। चूंकि लड़की नाबालिग थी, पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर लिया। दोनों भोपाल में पकड़े गए और पुलिस उन्हें लेकर सागर चली गई।

यह भी पढ़ें: रस्सी के सहारे नदी पार करते वक्त गिरने से किसान की मौत, MP में बदहाली की शर्मनाक दास्तां

मृतक युवक के पिता राजू पटेल ने बताया कि पहले उन्हें थाने बुलाया गया था। कुछ देर बाद कहा गया कि घर जाओ और शाम को आना। लेकिन लड़की के पक्ष के कई लोग वहीं मौजूद रहे। लड़की पक्ष के लोगों ने पुलिस के साथ मिलकर थाने में उसे बेरहमी मारा जिससे उसकी जान गई। मामला रफा-दफा करने के लिए पुलिस कह रही है कि उसने फांसी लगा ली।

मामले में एसपी तरुण नायक का कहना है कि थाने में फांसी की घटना संज्ञान में आई है। फिलहाल मामले की ज्यूडिशियल इंक्वायरी करवाई जा रही है। इसमें जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि थाना प्रभारी राकेश शर्मा समेत तीन पुलिस कर्मचारियों को लाइन अटैच किया गया है।