अलीगढ़ शराब कांड का मुख्य आरोपी निकला बीजेपी नेता ऋषि शर्मा, पुलिस ने किया बुलंदशहर बॉर्डर से गिरफ्तार

ऋषि शर्मा को पुलिस ने अलीगढ़ और बुलंदशहर के बॉर्डर से गिरफ्तार किया है, ऋषि शर्मा पर पुलिस ने एक लाख की इनामी राशि भी घोषित की थी

Updated: Jun 06, 2021, 03:09 PM IST

अलीगढ़ शराब कांड का मुख्य आरोपी निकला बीजेपी नेता ऋषि शर्मा, पुलिस ने किया बुलंदशहर बॉर्डर से गिरफ्तार
Photo Courtesy: Punjab Kesari

अलीगढ़। अलीगढ़ जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आ गया है। बीजेपी नेता और शराब माफिया ऋषि शर्मा को अलीगढ़ पुलिस ने धर दबोचा है। पुलिस ने आरोपी को अलीगढ़ और बुलंदशहर की सीमा पर पकड़ा है। 

ऋषि शर्मा बुलंदशहर भागने की फिराक में था, लेकिन उसके भागने की योजना की पुलिस को पहले ही जानकारी मिल चुकी थी। जिस वजह से ऋषि शर्मा पुलिस की चंगुल से बच निकलने में कामयाब नहीं हो पाया।

पुलिस पिछले नौ दिनों से शराब माफिया की तलाश कर रही थी। पुलिस ने अलीगढ़ जहरीली शराब कांड में अब तक कुल 17 मुकदमे दर्ज किए हैं। जिसमें पुलिस ने कुल 61 लोगों को हिरासत में लिया है। गिरफ्त में लिए गए लोगों में आरोपी ऋषि शर्मा के परिवार के सदस्य भी शामिल हैं। 

यह भी पढ़ें : महामारी के दौरान सत्ता की लालसा से पैदा होगी अराजकता, उद्धव ठाकरे ने साधा बीजेपी पर निशाना

ऋषि शर्मा पर पुलिस ने एक लाख रुपए की इनामी राशि घोषित की थी। इससे पहले उसके ऊपर 75 हज़ार रुपए की इनामी राशि घोषित की गई थी। लेकिन तमाम जगह तलाश करने और पूछताछ के बावजूद ऋषि शर्मा के ठिकाने का नहीं पता चल रहा था। 

आखिरकार पुलिस ने ऋषि शर्मा को दबोचने के लिए इनामी राशि एक लाख रुपए कर दी। इसके साथ ही पुलिस ने अपने मुखबिरों को भी एक्टिव कर दिया। शनिवार देर रात पुलिस को यह सूचना मिली कि ऋषि शर्मा रविवार को अलीगढ़ से बुलंदशहर जाने वाला है। इसके बाद पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए ऋषि शर्मा को पकड़ लिया। ऋषि शर्मा को पुलिस ने जिस गाड़ी में पकड़ा, इस गाड़ी में भी भारी मात्रा में शराब मौजूद था। पुलिस ने शराब को जब्त कर लिया है। 

यह भी पढ़ें : क्या यूपी में बदल जाएगा सत्ता का रंग, योगी के गोरखपुर लौटने की चर्चाएं शुरू, पीएम मोदी ने नहीं दी बधाई

अलीगढ़ जहरीली शराब कांड में अब तक 100 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। हालांकि अब तक जहरीली शराब के कारण 35 लोगों की मौत की ही पुष्टि हो सकी है। बाकी लोगों की मृत्यु को पुलिस अभी संदेहास्पद मान कर चल रही है। पुलिस का कहना है कि मृतकों की विसरा रिपोर्ट सामने आने के बाद ही इस बात की पुष्टि की जा सकेगी कि उनकी मृत्यु जहरीली शराब पीने के कारण हुई है।