ओडिशा: मलकानगिरी में बड़ा हादसा, नदी में नाव पलटने से 8 मजदूर लापता

हैदाराबाद से करीब 35 प्रवासी मजदूर ओडिशा के लिए निकले थे और बीच रात में सिलेरू पहुंचे। लॉकडाउन रहने के कारण और क्वारंटाइन होने से बचने के लिए उन्होंने शार्ट कट रास्ता अपनाया और मछुआरों की नाव में सवार हो गए।

Updated: May 25, 2021, 03:48 PM IST

ओडिशा: मलकानगिरी में बड़ा हादसा, नदी में नाव पलटने से 8 मजदूर लापता
Photo courtesy: ABP

मलकानगिरी। ओडिशा के मलकानगिरी जिले के चित्रकोंडा में सिलेरू नदी में बड़ा हादसा हुआ। एक नाव पलटने से 8 प्रवासी मजदूर लापता हो गए हैं। बताया जा रहा है लापता लोगों में पांच महिलाएं सहित दो बच्चें शामिल हैं। पुलिस ने अब तक दो शव बरामद कर लिए हैं, हादसा ओडिशा-आंध्र प्रदेश बॉर्डर के पास हुआ है। बताया जा रहा है कि हादसे में एक बच्चे की भी मौत हुई है। फिलहाल अन्य लापता लोगों की खोज और बचाव अभियान जारी है।


बताया जा रहा है कि हैदाराबाद से करीब 35 प्रवासी मजदूर काम खत्म कर अपने घर ओडिशा के लिए निकले थे और बीच रात में सिलेरू पहुंचे। लॉकडाउन रहने के कारण और क्वारंटाइन होने से बचने के लिए उन्होंने शार्ट कट रास्ता अपनाया और मछुआरों की नाव में सवार हो गए। जिस वक्त नाव पलटी उस वक्त नाव पर 11 लोग सवार थे। तीन लोग तैर कर अपनी जान बचाई।


मलकानगिरी जिले के पुलिस अधीक्षक ऋषिकेश कीलारी ने बताया कि हैदाराबाद से करीब 35 प्रवासी मजदूर ओडिशा के लिए निकले थे। इन मजदूरों ने नदी पार करने के लिए मछुआरों की नाव का इस्तेमाल किया था। राज्य में जानलेवा कोरोना वायरस के मद्देनजर लगे कर्फ्यू के कारण वह लोग नदी के रास्ते जा रहे थे।
इसी दौरान नाव पलट जाने से हादसा हुआ। लापता हुए लोगों की खोज जारी है।