उत्तराखंड में सियासी संकट, सीएम ने देर रात राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा, विधायक दल की बैठक आज

उत्तराखंड में जारी सियासी उथलपुथल के बीच मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने राज्यपाल बेबी रानी मौर्य को अपना इस्तीफा सौंप दिया है, धन सिंह रावत या सतपाल महाराज राज्य के अगले सीएम हो सकते हैं

Updated: Jul 03, 2021, 08:19 AM IST

उत्तराखंड में सियासी संकट, सीएम ने देर रात राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा, विधायक दल की बैठक आज
Photo Courtesy: AajTak

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने शुक्रवार रात गवर्नर को अपना इस्तीफा सौंपा। इससे पहले उन्होंने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिख कर इस्तीफे की पेशकश भी की थी। तीरथ ने इसी वर्ष मार्च में त्रिवेंद्र सिंह रावत को रिप्लेस कर मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। अपने साढ़े तीन महीने के कार्यकाल में तीरथ लगातार विवादों से घिरे रहे। इस बार उनके इस्तीफे की वजह संवैधानिक संकट बताई जा रही है। तीरथ सिंह सन 2000 में अलग राज्य बने उत्तराखंड के आठवें मुख्यमंत्री थे।

राज्यपाल को इस्तीफा देने से पहले तीरथ सिंह रावत ने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर इस्तीफे की पेशकश की थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नड्डा को संबोधित पत्र में रावत ने लिखा है कि, 'संविधान के आर्टिकल 164-A के हिसाब से मुझे सीएम बनने के बाद 6 महीने के भीतर विधानसभा का सदस्य बनना था। लेकिन मैं विधानसभा का सदस्य इसलिए नहीं बन सकता चूंकि संविधान के आर्टिकल 151-A के मुताबिक आम चुनाव में जब 1 साल से कम समय बचे हों, तब उपचुनाव नहीं कराया जा सकता है। राज्य में संवैधानिक संकट उत्पन्न न हो इसलिए मैं इस्तीफा देना चाहता हूं।'

यह भी पढ़ें: विवादों और अविस्मरणीय यादों का कॉकटेल है भज्जी का करियर

तीरथ सिंह रावत ने राज्यपाल बेबी रानी मौर्य से भी मिलने का समय मांगा था। आखिरकार 11 बजे रात को उन्होंने महामहिम को अपना इस्तीफा सौंपा। इससे पहले लगभग पौने दस बजे रावत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी अल्पकालीन सरकार की उपलब्धियां गिनाई। हालांकि उन्होंने इस्तीफे का कोई जिक्र नहीं किया। जब पत्रकारों ने इस बारे में बात करनी चाहिए तो वह उठ कर चले गए।

तीरथ सिंह के इस्तीफे को लेकर चर्चा उनके हाल के दिल्ली यात्रा के बाद होने लगी थी। बीजेपी आलाकमान ने बुधवार को ही तीरथ को दिल्ली बुलाया था। वहां गृह मंत्री अमित शाह और जेपी नड्डा ने उनसे मुलाकात की थी। इसके बाद से ही अटकलें लगाई जा रही थी कि हाईकमान उन्हें अपने पद से हटने को का सकती है। 

यह भी पढ़ें: बनियान पहनकर, फेस पैक लगाकर सुनवाई में शामिल हुए वकील, तंग आकर इलाहाबाद HC ने जारी किया ड्रेस कोड

उधर मौजूदा सियासी हालातों को लेकर उत्तराखंड बीजेपी ने आज 3 बजे विधायक दल की मीटिंग बुलाई है। प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक इस बैठक की अध्यक्षता करेंगे। कौशिक ने यह साफ कर दिया है कि अगला सीएम कोई विधायक ही होगा। खबरों की मानें तो नए सीएम की रेस में बीजेपी के कद्दावर नेता धन सिंह रावत और सतपाल महाराज का नाम सबसे ऊपर है। इनके अलावा दो और नेता भी रेस में हैं।