क्या बीच में रद्द होगी भारत-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज़, ऑस्ट्रलियाई मीडिया और नेताओं के रुख से बढ़ी आशंका

ऑस्ट्रलिया के मीडिया में ऐसी ख़बरें छप रही हैं कि बीसीसीआई ने ब्रिस्बेन में होने वाले अंतिम मैच को सिडनी में शिफ्ट करने की मांग की है, जबकि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इनका खंडन कर चुका है

Updated: Jan 05, 2021, 01:29 AM IST

क्या बीच में रद्द होगी भारत-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज़, ऑस्ट्रलियाई मीडिया और नेताओं के रुख से बढ़ी आशंका
Photo Courtesy : ABC

नई दिल्ली। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच जारी चार मैचों की टेस्ट सीरीज़ पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। ख़बरें आ रही हैं कि सिडनी में होने वाला तीसरा टेस्ट इस सीरीज़ का आखिरी टेस्ट मैच हो सकता है। यह दावा ऑस्ट्रेलियन मीडिया की रिपोर्ट्स में छापा जा रहा है।  

दरअसल ऑस्ट्रेलियन मीडिया की रिपोर्ट्स में इस बात का दावा किया जा रहा है कि बीसीसीआई और भारतीय क्रिकेट टीम ब्रिस्बेन में होने वाले चौथे टेस्ट मैच को सिडनी में ही खेलना चाहती है। ऑस्ट्रलियन मीडिया कह रहा है कि बीसीसीआई ऐसा ब्रिस्बेन में कोरोना के सख्त नियमों की वजह से कर रहा है। ऑस्ट्रेलियन मीडिया बाकायदा अपनी रिपोर्ट्स में इस बात का प्रमुखता से वर्णन कर रहा है कि बीसीसीआई ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से चौथे और अंतिम टेस्ट मैच को सिडनी में आयोजित कराने की मांग भी की है।  

ऑस्ट्रेलियन मीडिया की इन रिपोर्ट्स के बाद ब्रिस्बेन के शैडो हेल्थ मिनिस्टर रॉस बैट्स और शैडो स्पोर्ट्स मिनिस्टर टीम मेंडर ने बवाल खड़ा कर दिया। दोनों ने ही कहा कि अगर भारतीय टीम ब्रिस्बेन में कोरोना नियमों का पालन नहीं करेगी तो उसे ब्रिस्बेन में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। पहले ऑस्ट्रेलियन मीडिया की रिपोर्ट्स और फिर इन नेताओं के बयानों से बवाल खड़ा हो गया।  

कोरोना नियमों का सख्ती से पालन कर रही है टीम इंडिया : बीसीसीआई 
शेडो मंत्रियों के बयान के बाद बवाल मचने के बाद बीसीसीआई ने इस पर नाराज़गी ज़ाहिर की है। बीसीसीआई के अधिकारी ने किसी न्यूज़ एजेंसी को बताया कि भारतीय टीम कोरोना के नियमों का पूरी सख्ती के साथ पालन कर रही है। खुद रोहित शर्मा ऑस्ट्रलिया पहुँचने के बाद 14 दिन के क्वारंटाइन में रहे हैं। ऐसे में ऑस्ट्रेलिया के नेताओं के ऐसे बयान आना निराशाजनक है। इस तरह के बयान भारत की छवि को खराब करते हैं। 

वहीं इस पूरे मसले पर खुद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्पष्टीकरण जारी किया है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि बीसीसीआई की ओर से ऐसी कोई मांग नहीं रखी गई है। बीसीसीआई ने ब्रिस्बेन में होने वाले मैच को सिडनी में शिफ्ट करने की कोई मांग नहीं रखी है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि सीरीज़ का चौथा और अंतिम टेस्ट 19 जनवरी को ब्रिस्बेन में ही खेला जाएगा।

यह भी पढ़ें : रोहित शर्मा सहित पांच भारतीय क्रिकेटरों पर बायो बबल तोड़ने का आरोप, पांचों खिलाड़ी अब आइसोलेशन में

दरअसल इस सारे विवाद की जड़ हाल ही के दिनो ऑस्ट्रेलियन मीडिया द्वारा छापी गई भ्रामक ख़बरें हैं। ऑस्ट्रेलियन मीडिया ने मेलबोर्न टेस्ट के बाद से ही भारतीय टीम को निशाने पर लिया हुआ है। हाल ही में रोहित शर्मा सहित पांच खिलाड़ियों के एक रेस्टोरेंट में खाना खाने और एक फैन से ऋषभ पंत के गले मिलने की खबर को ऑस्ट्रलियन मीडिया ने पूरी प्रमुखता से छापा और कहा कि टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने कोरोना के नियमों का उल्लंघन किया है। हालांकि ऋषभ पंत से गले मिलने की बात खुद क्रिकेट फैन ने ही ट्विटर पर साझा की थी, लेकिन ऑस्ट्रेलियन मीडिया ने खबर छापने से पहले उस फैन से क्रॉस वेरिफाई करने की ज़हमत नहीं उठाई। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया में यह बवाल मच गया कि भारतीय खिलाड़ियों ने कोरोना नियमों का उल्लंघन किया है। लिहाज़ा क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने सभी खलाड़ियों को क्वारंटाइन भी कर दिया। इसके साथ ही टीम के साथ प्रैक्टिस करने और ट्रेवल करने पर भी रोक लगा दी गई। जब फैन के गले मिलने की खबर पर इतना बवाल मचा तो खुद क्रिकेट फैन ने पंत से गले मिलने की बात से इनकार कर दिया।  

इस घटनाक्रम के बाद अब ब्रिसबेन मैच को सिडनी में शिफ्ट करने की बीसीसीआई की कथित मांग को रिपोर्ट्स में छाप कर ऑस्ट्रेलियन मीडिया ने एक और बवाल खड़ा दिया। जबकि खुद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने यह बात स्वीकारी है कि बीसीसीआई की ओर से ऐसी कोई मांग रखी ही नहीं गई है। जबकि इसके उलट बीच में सिडनी टेस्ट से पहले यह खबरे आईं थी कि भारत सिडनी में बढ़ रहे कोरोना मामले के चलते तीसरा टेस्ट या तो ब्रिस्बेन में खेलना चाहता है या फिर मेलबोर्न में। ऐसे में ऑस्ट्रेलियन मीडिया द्वारा छापी गईं रिपोर्ट्स भारतीय क्रिकेट टीम का ध्यान क्रिकेट से हटाने की एक कोशिश ही प्रतीत होता है। और ऑस्ट्रेलियन मीडिया का यह हथकंडा हैरानी भरा भी नहीं है। भारतीय टीम के हर ऑस्ट्रेलियाई दौरे में ऑस्ट्रेलियन मीडिया भारतीय खिलाड़ियों का ध्यान बंटाने के लिए भ्रामक ख़बरें छापने और भारतीय खिलाड़ियों की आलोचना की मुहिम चलाता है। 

यह भी पढ़ें : सिडनी में ही होगा तीसरा टेस्ट, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया मैदानों की अदला बदली के मूड में नहीं

क्रिकेट जगत में यह चर्चा बड़ी आम है कि जब भी कोई टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाती है तो उस टीम को न सिर्फ ऑस्ट्रेलिया की टीम बल्कि उसकी मीडिया और फैंस से भी भिड़ना होता है। हालांकि मेलबर्न टेस्ट में भारत की जीत से पहले तक यह दौरा काफी दोस्ताना भरा रहा था। सीरीज़ के दौरान भारतीय कमेंटेटर्स भी यह बोलते हुए सुनाई दे जा रहे थे कि इस मर्तबा यह सीरीज़ काफी दोस्ताना माहौल में खेली जा रही है। दूसरी तरफ टीम के कप्तान विराट कोहली की गैर मौजूदगी से भी ऑस्ट्रेलियन मीडिया और पूर्व खिलाड़ी तक ऑस्ट्रेलियन टीम की इस सीरीज़ में जीत को लेकर आश्वस्त थे। लेकिन जब से मेलबर्न टेस्ट में भारतीय टीम के हाथों ऑस्ट्रेलियन टीम को करारी हार मिली है, न सिर्फ ऑस्ट्रेलियन टीम बल्कि ऑस्ट्रेलियन मीडिया का रुख भी बदल गया है।

चार टेस्ट मैचों की सीरीज़ में अब तक कुल दो मैच खेले गए हैं, जिसमें एक में ऑस्ट्रेलिया तो एक में भारत को जीत मिली है। 7 जनवरी से तीसरा टेस्ट सिडनी के मैदान में शुरू होना है। जबकि 19 जनवरी से ब्रिस्बेन में सीरीज़ का चौथा और अंतिम टेस्ट शुरू होना है।