Corona Vaccine: भारत को 10 करोड़ कोरोना वैक्सीन देगा रूस

Sputnik V: रसियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड और डॉक्टर रेड्डीज ग्लोबल फार्मास्युटिकल कंपनी के बीच हुआ समझौता, सप्लाई के लिए नियामक मंजूरी जरूरी

Updated: Sep 16, 2020 07:27 PM IST

Corona Vaccine: भारत को 10 करोड़ कोरोना वैक्सीन देगा रूस
Photo Courtsey : NDTV

रूस भारत को 10 करोड़ कोरोना वैक्सीन सप्लाई करेगा। इस संबंध में  रसियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड और डॉक्टर रेड्डीज ग्लोबल फार्मासूटिकल कंपनी के बीच समझौता हुआ है। इस कंपनी का मुख्यालय भारत में है। दोनों के बीच वैक्सीन के ट्रायल में सहयोग करने का भी समझौता हुआ है। स्पूतनिक वी नाम की कोरोना वैक्सीन को रूस का गामलेया इंस्टीटूट विकसित कर रहा है। इसमें रसियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड की भी हिस्सेदारी है।

फंड की तरफ से एक बयान में कहा गया, "भारत में नियामक मंजूरी मिल जाने के बाद हम वैक्सीन के 10 करोड़ डोज सप्लाई करेंगे। स्पूतनिक वी वैक्सीन की सुरक्षा की पुष्टि हो चुकी है, फिलहाल इसके ट्रायल चल रहे हैं।"

फंड ने यह भी बताया कि सप्लाई 2020 के अंत से शुरू हो सकती है। हालांकि, यह पूरी तरह से ट्रायल और भारत में इसे नियामक मंजूरी मिलने पर निर्भर है। फंड ने कहा कि यह समझौता बताता है कि कोरोना वायरस के खिलाफ साझा सहयोग को लेकर देश कितने सजग हैं।

Click: Corona Vaccine भारत में भी ऑक्सफोर्ड कोरोना वैक्सीन ट्रायल पर रोक

इससे पहले इस महीने की शुरुआत में नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल ने बताया था कि रूस की सरकार ने स्पूतनिक वी के निर्माण और तीसरे चरण के ट्रायल के लिए भारत से मदद मांगी है। आईसीएमआर भी कह चुका है कि वैक्सीन बनाने में रूस का इतिहास अच्छा है और हम उनके साथ काम करने को लेकर सकारात्मक हैं।