100 यूनिट बिजली माफ, 200 यूनिट बिजली हाफ, बदनावर में कमलनाथ का बड़ा ऐलान

मुझे ED और CBI से कतई डर नहीं लगता, मेरा रास्ता सच्चाई का रास्ता है, मेरे राजनीतिक जीवन पर कोई उंगली नहीं उठा सकता: कमलनाथ ने बदनावर में भरी हुंकार

Updated: May 18, 2023, 01:41 PM IST

100 यूनिट बिजली माफ, 200 यूनिट बिजली हाफ, बदनावर में कमलनाथ का बड़ा ऐलान

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। इस साल के अंत में होने वाले चुनाव को लेकर कांग्रेस ने पूरी ताकत झोंक दी है। कांग्रेस के सभी कद्दावर नेता विधानसभा क्षेत्रों के दौरा कर रहे हैं। इसी क्रम में पूर्व सीएम कमलनाथ गुरुवार को बदनावर पहुंचे। यहां उन्होंने 100 यूनिट बिजली फ्री देने का ऐलान किया।

धार जिले के बदनावर में जनसभा को संबोधित करते हुए पूर्व सीएम कमलनाथ ने बड़ा ऐलान किया। पीसीसी चीफ ने कहा कि इस बार सौ रुपए में सौ यूनिट बिजली नहीं बल्कि 100 यूनिट तक बिजली फ्री देंगे। उन्होंने कहा, '100 यूनिट बिजली माफ और 200 यूनिट बिजली हाफ।' इसके पहले बदनावर में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कमलनाथ ने कहा कि मैं ईडी और सीबीआई से नहीं डरता।

कमलनाथ ने प्रेस ब्रीफिंग के दौरान कहा, 'मध्य प्रदेश का नौजवान आज रोजगार के लिए भटक रहा है, प्रदेश का अन्नदाता खाद बीज और फसलों के उचित मूल्य के लिए भटक रहा है।.प्रदेश में चौपट राज चल रहा है। रोजगार चौपट, भर्ती व्यवस्था चौपट, शिक्षा व्यवस्था चौपट, स्वास्थ्य व्यवस्था चौपट, नर्सिंग कॉलेज चौपट, उद्योग चौपट... प्रदेश में आज हर क्षेत्र में व्यवस्थाएं चौपट हैं।'

कमलनाथ ने कहा, 'हमें गर्व है कि पीथमपुर औद्योगिक क्षेत्र कांग्रेस की सरकार ने बनाया था, परंतु आज पीथमपुर की हालत देखकर बेहद दुख होता है। भाजपा सरकार की गलत नीतियों से औद्योगिक क्षेत्रों का सत्यानाश किया हुआ है।' उन्होंने आगे कहा कि पूरे मध्य प्रदेश से मांग उठ रही है कि इस बार विधानसभा चुनाव में स्थानीय उम्मीदवार दिया जाए। जिससे मैं भी काफी हद तक सहमत हूं, हमारा स्थानीय संगठन इसमें अहम भूमिका निभाएगा।

यह भी पढ़ें: कुछ दिनों में होगा बड़ा सियासी धमाका, अभी खुलासा नहीं कर सकते: पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह

धर्म से जुड़े सवाल के जवाब में पूर्व सीएम ने कहा, 'धर्म हमारी आस्था है और हम धर्म का राजनीतिक दुरुपयोग नहीं करते। मैं स्वयं पंडित प्रदीप मिश्रा के कार्यक्रम में इंदौर गया था। बागेश्वर महाराज से मिलने छतरपुर गया। परंतु वह हमारे लिए राजनीतिक विषय नहीं हैं, धर्म को स्वार्थ के लिए राजनीतिक मंच पर लाने का कार्य भाजपा करती है।'

केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग को लेकर कमलनाथ ने कहा कि, 'मुझे ईडी और सीबीआई से कतई डर नहीं लगता क्योंकि मेरा रास्ता सच्चाई का रास्ता है। 44 साल के मेरे राजनीतिक जीवन पर कोई उंगली नहीं उठा सकता। 44 साल तक मुझे मेरे क्षेत्र की जनता ने वोट दिया है। देश में कोई ऐसा सांसद नहीं है, जो इतने चुनाव जीता हो जितने मैं जीता हूं।'