Gang rape in Railway Guest House: भोपाल के VIP रेलवे गेस्टहाउस में गैंगरेप, नौकरी का झांसा देकर यूपी से बुलाया

Bhopal Crime: रेलवे यूनियन के पदाधिकारी है दो आरोपी अफसर, कोल्ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर किया रेप, मामला दबाने के प्रयास

Updated: Sep-27, 2020, 02:39 PM IST

Gang rape in Railway Guest House: भोपाल के VIP रेलवे गेस्टहाउस में गैंगरेप, नौकरी का झांसा देकर यूपी से बुलाया

भोपाल। राजधानी के मेन रेलवे स्टेशन के वीआईपी गेस्ट हाउस में यूपी की 22 साल की युवती से गैंगरेप का मामला सामने आया है। दोनों आरोपी अफसर पश्चिम मध्य रेलवे संघ (डब्ल्यूसीआरएमएस) के पदाधिकारी हैं। युवती से एक आरोपी की फेसबुक के जरिए पहचान हुई थी और उसे नौकरी दिलाने के नाम पर भोपाल बुलाया गया था। मामले का खुलासा शनिवार सुबह हुआ था मगर इसे दबाने की कोशिश की गई। बात नहीं बनी तो जीआरपी भोपाल ने देर रात एफआईआर दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ़्तारी की गई है।  

रेलवे ने भी दोनों आरोपियों राजेश तिवारी और आलोक मालवीय को तत्काल निलंबित कर दिया है। जूनियर इंजीनियर राजेश तिवारी वर्तमान में सेफ्टी काउंसलर है और आलोक मालवीय सीनियर सेक्शन इंजीनियर है।जीआरपी के अनुसार अभी युवती को भोपाल बुलाने वाले राजेश तिवारी को गिरफ्तार किया गया है, दूसरे आरोपी के बारे में सबूत जुटाए जा रहे हैं। 

उत्तर प्रदेश के महोबा जिले की रहने वाली पीड़िता ने पुलिस को बताया है कि उसकी छह माह पहले राजेश तिवारी से परिचय हुआ था। राजेश तिवारी ने उसे नौकरी दिलवाने का कह कर भोपाल बुलाया था। वह शनिवार सुबह भोपाल एक्सप्रेस से भोपाल आई थी। राजेश तिवारी ने उसे अपने साथ रेलवे स्टेशन के वीआईपी गेस्ट हाउस में रुकवाया था। बाद में राजेश तिवारी अपने साथ एक अन्य व्यक्ति के साथ गेस्ट हाउस पहुंचा। उन्होंने उसे कुछ पीने को दिया। जिसके बाद वह बेहोश हो गई। बेहोशी की हालत में उसके साथ दुष्कर्म किया गया। 

होश में आने के बाद युवती ने पुलिस को शिकायत की। पुलिस को गेस्ट हाउस में आपत्तिजनक सामग्री मिली है।