मारो मुझे मारो तर्ज पर MP के ड्रामेबाज मंत्री का वीडियो वायरल, सब्जी विक्रेता महिला ने जड़ा थप्पड़

आप पहले मेरी पिटाई तो कर लो, एक ऐसे मारो और एक ऐसे, मैं महाराज नहीं हूं, बेटा हूं तुम्हारा, सब्जी मंडी में महिला से थप्पड़ मरवाते दिखे प्रद्युम्न सिंह तोमर

Updated: Jan 14, 2022, 09:24 AM IST

मारो मुझे मारो तर्ज पर MP के ड्रामेबाज मंत्री का वीडियो वायरल, सब्जी विक्रेता महिला ने जड़ा थप्पड़

ग्वालियर। अपने अजीबोगरीब कारनामों को लेकर चर्चा बटोरने वाले मध्य प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर एक बार फिर सुर्खियों में हैं। नाले में फावड़ा लेकर कूदने से लेकर बिजली के खम्भों पर चढ़ने तक वे अपनी पब्लिसिटी के लिए कोई कसर नहीं छोड़ते। इस बार उन्होंने 'मारो मुझे मारो' के तर्ज पर एक महिला से खुद को थप्पड़ जड़वाया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक वह गुरुवार को ग्वालियर के हजीरा स्थित मंडी के सब्जी विक्रेताओं के पास पहुंचे थे। दरअसल, ग्वालियर नगर निगम ने हजीरा चौराहे पर स्थित कई वर्षो पुरानी सब्जी मंडी को अतिक्रमण करार देते हुए वहां से सभी सब्जी विक्रेताओं को इंटक मैदान स्थित हॉकर जोन में शिफ्ट करा दिया है। सब्जी विक्रेता इसी का विरोध कर रहे हैं। 

सब्जी विक्रेताओं का कहना है कि बड़े नेताओं और पूंजीपतियों के ईशारे पर उनकी सब्जियां फेंक दी गई और महिला विक्रेताओं के साथ अभद्रता की गई। इसके बाद नाराज सब्जी विक्रेताओं से मिलने प्रद्युम्न सिंह तोमर पहुंचे। एक महिला सब्जी विक्रेता ने उनसे जब पूछा कि क्या इसीलिए आपको वोट दिया था तो वे उसका हाथ पकड़कर कहने लगे कि इसके लिए मुझे मारो। महिला के मना करने पर उन्होंने खुद उसका हाथ पकड़कर अपने गालों पर थप्पड़ जड़ा। तोमर ने इस दौरान कहा कि मैं महाराज नहीं हूं आपका बेटा हूं।

मामले पर प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा है कि यह कार्रवाई केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के इशारे पर की गई है। सिंह ने कहा, 'सिंधिया अब तानाशाह होते जा रहे हैं और गरीब जनता को अतिक्रमण के नाम पर तंग कर रहे हैं। जबतक सभी सब्जी विक्रेताओं को उनका हक नहीं मिल जाता, तब तक कांग्रेस इस मुद्दे से पीछे नहीं हटेगी।'

बता दें कि यह पहला मौका नहीं है जब ऊर्जा मंत्री तोमर अपने अजीबोगरीब कारनामों को लेकर सुर्खियों में रहे हों। वे मंत्री रहते कई बार फावड़ा लेकर नाले में कूद पड़े हैं तो बिजली ठीक करने खंभे पर भी चढ़ चुके हैं। हाल ही में उन्होंने ऑन कैमरा एक कन्या स्कूल में टॉयलेट साफ किया था। कांग्रेस पार्टी तोमर के इन कारनामों को पब्लिसिटी स्टंट करार देती रही है।