इंदौर में मुर्गे की बांग से कैंसर स्पेशलिस्ट परेशान, थाने जाकर पड़ोसी के खिलाफ दर्ज कराया केस

इंदौर में मुर्गे की बांग से परेशान एक कैंसर स्पेशलिस्ट ने पुलिस की शरण ली है। उन्होंने पड़ोसी के खिलाफ पब्लिक न्यूसेंस का केस दर्ज कराया है।

Updated: Nov 30, 2022, 06:24 PM IST

इंदौर में मुर्गे की बांग से कैंसर स्पेशलिस्ट परेशान, थाने जाकर पड़ोसी के खिलाफ दर्ज कराया केस

इंदौर। भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में आज भी मुर्गे की बांग मॉर्निंग अलार्म का काम करती है। लेकिन अगर शहर में मुर्गा बांग दे तो यह विवाद का कारण भी बन सकता है। ऐसा ही मामला मध्य प्रदेश के इंदौर से सामने आया है। यहां एक मशहूर कैंसर स्पेशलिस्ट डॉक्टर मुर्गे की बांग से परेशान हैं। मामला इतना बढ़ गया कि वे शिकायत करने थाने पहुंच गए।

इंदौर के पलासिया पर ग्रेटर कैलाश हॉस्पिटल के पास सिल्वर एनक्लेव में डॉ. आलोक मोदी रहते हैं। उन्होंने पलासिया थाने में अपने पड़ोसी के खिलाफ पब्लिक न्यूसेंस का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई है। डॉ मोदी का आरोप है कि पड़ोसी वंदना विजयन ने मुर्गे पाल रखे हैं। इसके साथ-साथ चार कुत्ते भी उसके घर में है। मुर्गे आंगन में खुले रहते हैं और रोज सुबह चार से पांच बजे के बीच बांग देते हैं और नींद खराब करते हैं।

यह भी पढ़ें: इकबाल सिंह बैंस ही रहेंगे MP के चीफ सेक्रेटरी, 6 महीने के लिए बढ़ाया गया कार्यकाल

पलासिया पुलिस थाने को अपनी शिकायत में डॉक्टर मोदी ने बताया है कि कई बार वे ड्यूटी और ऑपरेशन की वजह से रात में देर से घर लौटते हैं। सुबह तक सोना चाहते हैं, लेकिन पड़ोसी के मुर्गे उन्हें सोने नहीं देते। बांग की वजह से नींद टूट जाती है और पूरा दिन खराब होता है। डॉक्टर मोदी के मुताबिक उन्होंने पड़ोसी से इस बारे में कई बार बात भी की लेकिन समस्या खत्म होने के बजाए हर बार विवाद ही हुआ। कोई समाधान नहीं निकला। 

डॉक्टर मोदी के मुताबिक उन्होंने मुर्गों को पिंजरे में ढंककर रखने की सलाह भी दी, लेकिन रास्ता नहीं निकला। वंदना विजयन के सिर्फ मुर्गे ही नहीं बल्कि कुत्ते भी परेशान करते हैं। डॉ. मोदी की शिकायत के अनुसार यह चार कुत्ते दिनभर भौंकते रहते हैं। इस वजह से उन्हें और अन्य पड़ोसियों को परेशानी होती है। 

मामले को सुलझाने के सभी रास्ते नाकाम रहे, आखिर में थक हारकर उन्हें पुलिस का शरण लेना पड़ा। डॉ मोदी की शिकायत पर पुलिस भी हरकत में आ गई है। पुलिस ने मुर्गा मालिक वंदना विजयन के खिलाफ धारा 138 के तहत केस दर्ज किया है।