भोपाल में लॉकडाउन के बावजूद सड़कों पर दिखे लोग, इंदौर और जबलपुर में पुलिस की सख्ती जारी

आज तीनों शहरों में कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण लॉकडाउन लगाया गया है, दवा की दुकानों को छोड़कर सभी दुकानें बंद हैं, पुलिस की सख्ती के बावजूद सुबह सड़कों पर लोग घूमते दिखे

Updated: Mar 21, 2021, 12:53 PM IST

भोपाल में लॉकडाउन के बावजूद सड़कों पर दिखे लोग, इंदौर और जबलपुर में पुलिस की सख्ती जारी
Photo Courtesy: Amar Ujala

भोपाल / इंदौर / जबलपुर। मध्य प्रदेश में कोरोना के कहर के कारण भोपाल, इंदौर और जबलपुर में लॉकडाउन लगाया गया है। शनिवार रात दस बजे से रविवार सुबह 6 बजे तक तीनों शहरों में टोटल लॉकडाउन का एलान है। फिर भी सुबह के वक्त राजधानी भोपाल में लोग सड़कों पर निकलते दिखाई दिए। हालांकि जैसे-जैसे दिन चढ़ा लॉकडाउन का असर नज़र आने लगा और सड़कें सुनसान हो गईं। 

भोपाल शहर में हर प्रमुख जगह पर पुलिस ने बैरिकेड्स लगाए गए हैं। राजधानी में सुबह में जब लोग सड़कों पर दिखने लगे तब पुलिस ने सख्ती दिखाना शुरू किया। इसके बाद दोपहर तक लॉकडाउन का असर साफ-साफ नज़र आने लगा। 

भोपाल में भले ही लोग सड़कों पर निकलते दिखाई दिए हों, लेकिन इंदौर में दुकानों के शटर नहीं खुले। भोपाल प्रशासन के मुकाबले इंदौर प्रशासन लॉकडाउन को ज्यादा सख्ती के साथ लागू करवाता नज़र आया। यही वजह है कि वहां सुबह से ही सड़कों पर सन्नाटा छाया रहा। जबलपुर में भी सुबह से ही लोग लॉकडाउन का सख्ती के साथ पालन करते दिखाई दिए। 

दोपहर होने तक लॉकडाउन का असर प्रदेश के तीनों शहरों में दिखाई देने लगा। इस लॉकडाउन के दौरान दवा दुकानों के अलावा किसी अन्य दुकान को खोलने की अनुमति नहीं है। सुबह सिर्फ दूध की सप्लाई के लिए छूट दी गई थी। तीनों शहरों में बेहद ज़रूरी काम से जाने वाले यात्रियों को आवाजाही की इजाजत दी जा रही है।  लॉकडाउन का असर वाहनों के किरायों पर भी दिखा। आम दिन के मुकाबले वाहन मालिक दोगुना किराया वसूलते दिखे। आज ही एमपीपीएससी की मेन्स परीक्षा भी हो रही है, इसलिए परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों को लॉकडाउन के बावजूद बाहर निकलना पड़ा।