MP में पंचायत चुनाव की घोषणा, तीन चरणों में होंगे मतदान, आज से आचार संहिता लागू

मध्य प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया है कि राज्य में निकाय चुनाव से पहले पंचायत चुनाव होंगे, इसके लिए 25 जून से 8 जुलाई तक वोटिंग होगी

Updated: May 27, 2022, 05:23 PM IST

MP में पंचायत चुनाव की घोषणा, तीन चरणों में होंगे मतदान, आज से आचार संहिता लागू

भोपाल। मध्य प्रदेश में पंचायत चुनाव की घोषणा हो गई है। राज्य निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेंस कर पंचायत चुनाव का ऐलान किया। राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने पत्रकार वार्ता में बताया कि राज्य में निकाय चुनाव से पहले पंचायत चुनाव होंगे और इसके लिए 25 जून से लेकर 8 जुलाई तक तीन चरणों में मतदान होंगे। 

पत्रकार वार्ता में राज्‍य निर्वाचन आयुक्‍त ने कहा कि बरसात के मद्देनजर हम पंचायत चुनाव पहले कर रहे हैं। नगरीय निकाय में हालांकि बारिश की वजह से ज्यादा दिक्कत नहीं होती है। बारिश में मतदान कर्मियों को ग्रामीण इलाकों में पहुंचने में दिक्कत होती है। पंचायत चुनाव तीन चरणों में होंगे। पहले चरण का मतदान 25 जून को, दूसरे चरण का मतदान 1 जुलाई को जबकि तीसरे चरण का मतदान 8 जुलाई को होंगे।

यह भी पढ़ें: स्थानीय निकाय चुनाव से पहले वोटर लिस्ट में भारी गड़बड़ी, कांग्रेस का दावा 40 हजार से ज्यादा वोटर्स के नाम गायब

निर्वाचन आयोग के मुताबिक चुनाव 4 लाख पदों के लिए होंगे और इसके लिए नामांकन 30 मई से भरे जा सकेंगे।  6 जून तक नामांकन पत्र स्वीकार किए जाएंगे इसके अगले दिन नामांकन पत्रों की जांच होगी। नाम वापस लेने की आखिरी तारीख 10 जून दोपहर 3 बजे तक है। इसके ठीक बाद चुनाव लड़ने वाले अभ्यर्थियों की सूची तैयार कर उन्हे सिंबल अलॉट कर दिया जाएगा।

पहले चरण में 115 जनपद पंचायतों में चुनाव होंगे। इसके लिए 27049 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। दूसरे चरण में 106 जनपद पंचायतों में चुनाव होंगे। इसके लिए 23,988 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। जबकि तीसरे चरण में सिर्फ 92 जनपद पंचायतें हैं। इसके लिए 20606 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। मतगणना 14 जुलाई को होगी। जबकि जिला पंचायत सदस्य का परिणाम 15 जुलाई को आएगा।

चुनाव के लिए मतपत्रों के रंग निर्धारित कर दिए गए हैं। पंच पद के लिए सफेद, सरपंच के लिए नीला, जनपद पंचायत सदस्य के लिए पीला और जिला पंचायत सदस्य के लिए गुलाबी रंग का मतपत्र का मतदान होगा। इस बार जिला पंचायत और जनपद पंचायत सदस्य का चुनाव भी मतपत्र से होगा। अभी तक यह इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन से होता रहा था।