MP में मीडिया पर सेंसर, कमलनाथ को न सुन पाएं लोग इसलिए बंद करा दिए गए केबल चैनल

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने केबल ऑपरेटर और उपभोक्ता के बीच हुई बातचीत का ऑडियो जारी किया है, ऑपरेटर बताता है कि कमलनाथ का रोड शो लोग न देखें इसलिए आज केबल बंद करा दिया गया है

Updated: Jul 12, 2022, 09:59 PM IST

MP में मीडिया पर सेंसर, कमलनाथ को न सुन पाएं लोग इसलिए बंद करा दिए गए केबल चैनल

रतलाम। मध्य प्रदेश में नगरीय निकाय के लिए दूसरे चरण के चुनाव का प्रचार थम गया है। सोमवार को पीसीसी चीफ कमलनाथ रतलाम पहुंचे थे, जहां उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी मयंक जाट के समर्थन में रोड शो किया। हालांकि, इस दौरान एक अजीबोगरीब घटना हुई कि शहर में स्थानीय केबल बंद थे। केबल ऑपरेटर के मुताबिक लोग कमलनाथ के रोड शो में उमड़ी भीड़ न देख पाएं इसलिए प्रशासन ने चैनल बंद करा दिए।

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने केबल ऑपरेटर और स्थानीय उपभोक्ता के बीच हुई बातचीत की एक क्लिप ऑडियो जारी किया है। इसमें एक महिला उपभोक्ता चैनल बंद किए जाने को लेकर नाराजगी जाहिर करती हैं। इसपर केबल ऑपरेटर जवाब देता है कि हम तो दिखाना चाहते ही हैं, लेकिन प्रशासन ने केबल चैनल बंद करा दिया हैं, ताकि लोग कमलनाथ के रोड शो में उमड़ी भीड़ को नहीं देख पाएं।

मामले पर बीजेपी के जिलाध्यक्ष राजेंद्र लुनेरा का कहना है कि शहर के दोनों केबल ऑपरेटर पूरी तरह एकपक्षीय ख़बरें दिखा रहे थे जिसकी शिकायत पार्टी द्वारा कलेक्टर से की गई थी। बता दें कि रतलाम में नगर निगम के चुनावों में कांग्रेस की स्थिति काफ़ी मजबूत बताई जा रही है।

रतलाम कलेक्टर नरेंद्रराज सूर्यवंशी के मुताबिक केबल ऑपरेटरों के विरुद्ध शिकायत आई थी कि वे एकतरफ़ा कंटेंट दिखा रहे हैं। जिसे प्रशासन ने सही पाया था। केबल बंद करने से पहले प्रशासन द्वारा केबल ऑपरेटरों को ऐसा करने से मना भी किया गया था। कलेक्टर ने बताया कि दोनों चैनल को पहले समझाईश दी थी कि चैनल का प्रयोग किसी को नुकसान करने के लिए नहीं किया जाना चाहिए। लेकिन यह जारी रहा। इसके बाद चैनलों को बंद कर दिया गया। उन्होंने बताया कि एक पत्रकार को एकपक्षीय ख़बरें दिखाने केे लिए नोटिस भी दिया गया है। 

सोमवार को रतलाम में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की सभा में काफी भीड़ उमड़ी थी। इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार पर काफी तीखे हमले किए और कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज झूठी घोषणाओं के दम पर जनता को गुमराह करने का काम करते हैं। कमलनाथ ने यहां कहा कि प्रदेश में बेरोज़गारी लगातार बढ़ रही है लेकिन शिवराज जी इस पर बात ही नहीं करते। उन्होंने इसी दौरान कहा कि शिवराज जब निक्कर में थे तब मैं सांसद बन गया था।