रीवा की युवती को पाकिस्तानी युवक से हुआ प्यार, बॉर्डर क्रॉस करते वक्त सुरक्षाबलों ने पकड़ा, वापस भेजा रीवा

मध्य प्रदेश की रहने वाली 24 वर्षीय फिजा खान को सोशल मीडिया पर ही कराची के दिलशाद नाम के युवक से इश्क हो गया, दोनों ने निकाह का फैसला कर लिया, लेकिन बॉर्डर क्रॉस करते वक्त पकड़ी गई

Updated: Jun 26, 2022, 06:14 PM IST

रीवा की युवती को पाकिस्तानी युवक से हुआ प्यार, बॉर्डर क्रॉस करते वक्त सुरक्षाबलों ने पकड़ा, वापस भेजा रीवा
Photo Courtesy: Trawell

रीवा। मध्य प्रदेश की एक युवती को सोशल मीडिया पर ही पाकिस्तान के एक युवक से इश्क हो गया। दोनों निकाह कर साथ में रहना चाहते थे। युवती ने तय किया कि वह प्रेमी के पास पाकिस्तान जाएगी। लेकिन इस प्यार में सरहद की दीवार आड़े आ गई। सुरक्षाबलों ने युवती को पकड़कर वापस रीवा भेज दिया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक 24 वर्षीय युवती का नाम फिजा खान है। युवती सोशल मीडिया के माध्यम से 
कराची के दिलशाद नाम के युवक से दोस्ती कर ली। धीरे धीरे यह दोस्ती प्यार में बदला और दोनों ने तय किया कि वे निकाह करेंगे। युवती को इसके लिए पाकिस्तान जाना था। उसने पाकिस्तान जाने का वीजा भी बनवा लिया था, लेकिन बॉर्डर क्रॉस करने से पहले ही उसके नाम का लुक आउट सर्कुलर जारी हो गया। 

यह भी पढ़ें: मातम में बदली जीत की खुशियां, सरपंच बनने की खुशी नहीं बर्दाश्त कर पाई महिला, हार्ट अटैक से मौत

कस्टम विभाग और बीएसएफ के अधिकारियों ने अटारी बॉर्डर पर युवती को पकड़कर पंजाब पुलिस के हवाले कर दिया। सूचना मिलने पर रीवा पुलिस पंजाब पहुंची और युवती को वापस ले आई। जानकारी के मुताबिक युवती बीते 14 जून को घर से पाकिस्तान के लिए निकली थी। लेकिन परिजनों ने उसके गुमशुदगी की शिकायत कोतवाली थाना में दर्ज कराई।

पुलिस जब युवती की तलाश में जुटी थी इस दौरान पता चला कि कुछ दिन पहले ही उसने पासपोर्ट बनवाया है। परिजनों ने बताया कि उसने कई बार पाकिस्तान जाने की बात कही थी। लिहाजा कोतवाली थाना प्रभारी ने पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन को स्थिति से अवगत कराया। पुलिस अधीक्षक ने तत्काल युवती के लिए लुक आउट सर्कुलर जारी कर दिया।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश ने रचा इतिहास, 41 बार की चैंपियन मुंबई को हराया, पहली बार किया रणजी ट्रॉफी अपने नाम

भारतीय दूतावास को भी इस बाबत पत्र लिखा गया था। लिहाजा युवती पाकिस्तान पहुंचने से पहले ही अटारी बॉर्डर पर पकड़ी गई। कागजी कार्रवाई पूरा करने के बाद उसे एमपी पुलिस को सुपुर्द कर दिया गया। पुलिस के मुताबिक फिजा रीवा के एक स्कूल में टीचर है। रोजमर्रा की तरह एक दिन वह स्कूल पढ़ाने की बात कहकर घर से निकली लेकिन वापस नहीं लौटी, तब परिजनों ने शिकायत दर्ज कराई।

चूंकि, फिजा कई बार परिजनों से पाकिस्तान जाने का जिक्र कर चुकी थी, इससे परिजनों को शक हुआ कि कहीं वह पाकिस्तान जाने की तैयारी तो नहीं कर रही है। वह पाकिस्तान न भाग जाए, इसके लिए परिवार ने उसे रोकने के लिए लुकआउट नोटिस जारी करवा दिया। इसके तहत बॉर्डर पर पुलिस को अलर्ट कर दिया गया।परिजनों का शक सही निकला। फिजा 23 जून को पाकिस्तान जाने के लिए अटारी बॉर्डर पर पहुंच गई और सुरक्षाबलों ने उसे पकड़ लिया। फिलहाल युवती को समझा बुझाकर घर भेज दिया गया है।