भारतीयता का बोध और देशभक्ति का पाठ पढ़ाने के लिए MP में होगा बाल कांग्रेस का गठन

यूथ कांग्रेस बोली- BJP और RSS द्वारा फैलाए जा रहे सांप्रदायिक जहर, झूठ और फरेब से युवाओं को बचाने के लिए बाल कांग्रेस का होगा गठन

Updated: Jul 09, 2021, 05:17 AM IST

भारतीयता का बोध और देशभक्ति का पाठ पढ़ाने के लिए MP में होगा बाल कांग्रेस का गठन
Photo Courtsey : Rankflags.com

भोपाल। भारत को आजाद हुए 74 वर्ष पूरे होने वाले हैं। स्वतंत्रता संग्राम में योगदान देने वाले सेनानियों की अब चौथी पीढ़ी सामने आ रही है। इस पीढ़ी को स्वतंत्रता संग्राम से जुड़े तथ्य, भारतीयता का बोध और देशभक्ति का पाठ पढ़ाने के लिए मध्यप्रदेश कांग्रेस द्वारा एक अहम पहल की गई है। मध्यप्रदेश कांग्रेस ने बाल कांग्रेस के पुनर्गठन का ऐलान किया है।

वर्तमान समय के अनुसार बाल कांग्रेस का कांसेप्ट भले ही नया लगे, लेकिन इंदिरा गांधी के दौरान देश के कई राज्यों में बाल कांग्रेस की इकाई हुआ करती थी। कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर ने बताया है कि पीसीसी चीफ कमलनाथ ने बाल कांग्रेस के पुनर्गठन का निर्देश दे दिया है। इसमें 16 से 20 वर्ष के लोगों को शामिल किया जाएगा।

बाल कांग्रेस गठन करने के पीछे कांग्रेस का उद्देश्य किशोरावस्था में ही नीतियों, राष्ट्र निर्माण के लक्ष्य और भारत के निर्माण से जुड़े कांग्रेस के कार्यक्रमों के बारे में बौद्धिक रूप से सुसज्जित करने की है। इसके गठन की जिम्मेदारी यूथ कांग्रेस और पार्टी की छात्र इकाई एनएसयूआई को दी गई है। यूथ कांग्रेस और एनएसयूआई के पदाधिकारी किशोर-किशोरियों का चयन कर प्रारंभिक टीम का गठन करेंगे और कमलनाथ के नेतृत्व में आगे की रूपरेखा तैयार की जाएगी।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में फिर एक्टिव होगा मानसून अगले 48 घंटों में बारिश की चेतावनी, जबलपुर, मंडला, बालाघाट में होगी बारिश

बाल कांग्रेस के गठन को लेकर यूथ कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष विवेक त्रिपाठी ने बताया कि हमारा फोकस मुख्य रूप से स्कूली बच्चे हैं। इन्हें संगठन से जोड़कर आजादी की लड़ाई से लेकर भारत के विकास में कांग्रेस के योगदान को लेकर जागरूक किया जाएगा। त्रिपाठी ने कहा कि, 'संघ और बीजेपी द्वारा जो सांप्रदायिक जहर और झूठा इतिहास फैलाया जा रहा है, उसकी हकीकत नई पीढ़ी तक पहुंचाने के लिए बाल कांग्रेस का गठन किया जा रहा है।