चुनाव में सद्भाव के रंग, जब दिग्विजय सिंह ने शिवराज के बेटे कार्तिकेय की पीठ थपथपाई

MP By Elections: अभद्र भाषा और अमर्यादित टिप्पणियों के बीच वायरल हुआ मध्य प्रदेश की राजनीति में सद्भाव का वीडियो, एक दूसरे के धुर विरोधी शिवराज के बेटे कार्तिकेय और दिग्विजय सिंह की मुलाकात चर्चा में

Updated: Oct 29, 2020, 08:56 PM IST

चुनाव में सद्भाव के रंग, जब दिग्विजय सिंह ने शिवराज के बेटे कार्तिकेय की पीठ थपथपाई
Photo Courtesy: bhaskar

भोपाल। मध्यप्रदेश उपचुनाव को लेकर जहां चुनाव प्रचार के दौरान अभद्र भाषा और अमर्यादित टिपणियां चरम पर है। इसी बीच राजनीतिक सद्भाव का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह मौजूदा सीएम शिवराज के बेटे कार्तिकेय की पीठ थपथपा रहे हैं।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह और कार्तिकेय सिंह की मुलाकात का यह वीडियो वायरल होते ही सियासी गलियारों में चर्चा का विषय बन गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह बुधवार को रात्रि विश्राम के लिए ब्यावरा के हाइवे स्ट्रीट में रुके थे। अगली सुबह यानी गुरुवार को वह जब चुनाव प्रचार के लिए क्षेत्र में जा रहे थे तब अचानक उनकी मुलाकात अपने धुर विरोधी सीएम शिवराज के बेटे कार्तिकेय से हुई।

दिग्विजय सिंह को सामने देख कार्तिकेय ने हाथ जोड़कर उनका अभिवादन किया जिसके बाद कांग्रेस नेता ने भी अपने हाथ जोड़े। मुलाकात के दौरान दिग्विजय सिंह कार्तिकेय की पीठ पर हाथ रख उन्हें आशीर्वाद देते भी नज़र आए।

इस दौरान कार्तिकेय ने दिग्विजय से उनके बेटे विधायक जयवर्धन सिंह का हालचाल भी जाना। जयवर्धन बीते दिनों कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद इलाज करवा रहे हैं। 

और पढ़ें: Mp by Election: सांची में बोले शिवराज ‘मैं कमीना हूं’ 

 व्यक्तिगत मुलाकातों पर सियासी मतभेदों की आंच नहीं

राजनीतिक रूप से एक दूसरे धुर-विरोधी दिग्विजय सिंह और शिवराज में जुबानी जंग तो होती रहती है लेकिन व्यक्तिगत मुलाकात के दौरान दोनों नेता बड़ी आत्मीयता से मिलते हैं। इसी चीज को शिवराज के बेटे कार्तिकेय भी निभाते देखे गए। गौरतलब है कि दिग्विजय सिंह और शिवराज सिंह चौहान कई बार एक दूसरे पर गंभीर आरोप लगा चुके हैं। वहीं कार्तिकेय भी इन दिनों उपचुनाव को लेकर खासे सक्रिय हैं और अपनी जनसभाओं में वह दिग्विजय सिंह से लेकर अन्य कांग्रेस नेताओं को निशाने पर लेने से नहीं चूकते।

बता दें कि उपचुनाव के दौरान यह पहली बार नहीं है जब विपक्षी नेताओं को आत्मीयता से सार्वजनिक मुलाकात करते देखा गया हो। इसी हफ्ते कांग्रेस नेता सचिन पायलट और बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की भी मुलाकात हुई थी। सिंधिया ने पायलट का मध्य प्रदेश में स्वागत किया था।