Jitu Patwari: प्रदेश में हर चालीस मिनट में एक कोरोना मरीज की मौत

Corona in MP: कोरोना से निपटने में विफल हुई शिवराज सिंह चौहान सरकार, प्रदेश में हर तीन मिनट में सामने आ रहे दो कोरोना पॉज़िटिव

Updated: Sep 11, 2020 05:38 PM IST

Jitu Patwari: प्रदेश में हर चालीस मिनट में एक कोरोना मरीज की मौत

भोपाल। मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले और संक्रमण से मौत के आंकड़ों के बीच कांग्रेस ने प्रदेश की शिवराज सरकार को जमकर खरी-खोटी सुनाई है। मध्यप्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष व पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने शुक्रवार (11 सितंबर) को राजधानी भोपाल स्थित कांग्रेस कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार कोरोना से लड़ने में फेल साबित हुई है और इस वजह से आज प्रदेश में हर 40 मिनट में एक कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हो रही है।

कांग्रेस नेता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, 'मध्यप्रदेश की स्थिति भयावह होती जा रही है।16 सौ से ज्यादा परिवार के सदस्य कोरोना के कारण मौत के गाल में समा गए हैं। आज प्रदेश में हर तीन मिनट में दो कोरोना मरीज बन रहे हैं। हर 40 मिनट में एक मौत होती है। हद तो तब हो गई जब शिवराज प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री बने जो खुद कोरोना से ग्रसित हो गए। प्रदेश की पहली कैबिनेट बनी जिसके 9 सदस्य कोरोना से ग्रसित हो गए और मध्यप्रदेश पहला राज्य बन जहां तकरीबन 40 विधायक कोरोना संक्रमित हुए।'

 

सबसे गद्दार नेता भी ग्रसित

पटवारी ने इस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया को निशाने पर लेते हुए कहा कि सबसे बड़े गद्दार, जनता के हितों का हनन करने वाले सिंधिया ग्रसित हो गए, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ग्रसित हो गए, प्रभारी सुहास भगत ग्रसित हो गए, बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष प्रभात झा ग्रसित हो गए।' उन्होंने कहा, 'मध्यप्रदेश में शिवराज ने जिस तरीके से कोविड-19 की जंग लड़ी और उसकी वाहवाही लेने की कोशिश करते हैं उन्हें अखबारों की हैडिंग देखनी चाहिए। आज तीन डॉक्टरों के एक साथ चिता जलने की हैडिंग है। यह कैसे लड़ाई लड़ रही है बीजेपी?

Click: Jitu Patwari गाय का निवाला छीनकर मंत्रियों का टैक्स भर रही है शिवराज सरकार

लाइव कॉन्फ्रेंस में खोली पोल

पटवारी ने बीच प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ही प्रदेश के बड़े अस्पतालों की पोल खोल के रख दी। उन्होंने राजधानी भोपाल स्थित चिरायु, इंदौर स्थित अरविंदो व अन्य अस्पतालों में फोन लगाकर जब पूछा कि मेरे 2-3 मरीज हैं क्रिटिकल उनकी कुछ मदद हो जाएगी क्या? इसपर चिरायु, अरविंदो व अन्य अस्पतालों से यही जवाब मिला कि कुछ नहीं हो सकता क्योंकि एक भी बेड खाली नहीं है। उन्होंने कहा, 'अब आप खुद देखो कि प्रदेश की स्वास्थ्य व्यवस्था कैसी चरमरा गई है। बीजेपी ने अपने लालच और सत्ता के लिए प्रदेशवासियों को मौत के मुंह में डाल दिया है।

Click: Jitu Patwari ज्योतिरादित्य सिंधिया जनता के गद्दार

निजी अस्पतालों की लूट और सरकार की तरफ से छूट

कांग्रेस नेता ने कहा कि प्रदेश के निजी अस्पतालों में लूट मची हुई है और सरकार की तरफ से उन्हें छूट मिली हुई है। उन्होंने कहा, 'मिडल क्लास फैमिली को कोरोना से ठीक होने के लिए घर गिरवी रखना पड़ रहा है। प्रदेश के सीएम बड़े-बड़े दावे करते हैं आज वह सादे कागज पर लिखकर बताएं कि उन्होंने कोरोना से लड़ने के लिए क्या काम किए। रोज बड़े-बड़े आयोजन और भाषण के अलावा क्या किया? आज प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी हो गई है। इन्होंने 350 करोड़ की लूट की है। आपदा को अवसर बनाने का यही तरीका है।'