त्रेता में राम ने रावण का, द्वापर में कृष्ण ने कंस का और कलयुग में किसानों ने मोदी का घमंड तोड़ा: केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल ने हरियाणा के कुरुक्षेत्र में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि अगर आप अपने बच्चों को गुंडा, दंगाई और रेपिस्ट बनाना चाहते हैं तो बीजेपी के साथ जाएं

Updated: May 29, 2022, 05:26 PM IST

त्रेता में राम ने रावण का, द्वापर में कृष्ण ने कंस का और कलयुग में किसानों ने मोदी का घमंड तोड़ा: केजरीवाल

कुरुक्षेत्र। पंजाब का किला फतह करने के बाद अब अरविंद केजरीवाल की नजरें हरियाणा पर है। दिल्ली सीएम ने रविवार को हरियाणा के कुरुक्षेत्र में एक रैली को संबोधित करते हुए चुनावी अभियान का शुरुआत किया। इस दौरान वह पीएम मोदी पर जमकर बरसे। केजरीवाल ने पीएम मोदी की तुलना रावण और कंस से करते हुए कहा कि घमंड तो किसी का नहीं रहता।

केजरीवाल ने कहा, 'त्रेता युग में भगवान राम ने रावण का अहंकार तोड़ा, द्वापर में भगवान कृष्ण ने कंस का घमंड तोड़ा और कलयुग में किसानों ने नरेंद्र मोदी का घमंड तोड़ा है। किसानों ने मिलकर इतनी अहंकारी सरकार को झुका दिया।' जनसभा में मौजूद किसानों को कृषि कानून वापस होने पर बधाई दी। वहीं, जनता से अपील की, कि वे उन्हें एक मौका दें, वो हरियाणा में भी वो सब कर दिखाएंगे जो उन्होंने दिल्ली और पंजाब में कर दिखाया।

यह भी पढ़ें: नकली नोटों की फ्लो में उछाल, सालभर में दोगुने हुए 500 के जाली नोट, नोटबंदी को लेकर PM पर बरसा विपक्ष

अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि, 'जो लोग चाहते हैं कि उनके बच्चे डॉक्टर, इंजीनियर, वकील बनें, वो हमारे साथ आएं। जो चाहते हैं कि उनके बच्चे दंगाई, गुंडे और रेपिस्ट बनें वो भाजपा के पास चले जाएं। मैं एक साधारण आदमी हूं, मैं राजनीति नहीं जानता। मैंने दिल्ली सरकार के स्कूलों में सुधार किया है। स्कूलों ने इस बार 99.7 प्रतिशत परिणाम प्राप्त किए हैं। ट्रंप की पत्नी दिल्ली आयीं तो पीएम मोदी से बोली कि मैं तो केजरीवाल के स्कूल देखूंगी। पीएम मोदी ने खूब समझाया कि बीजेपी के स्कूलों को दिखा देंगे, लेकिन नहीं मानीं।'

अरविंद केजरीवाल ने चुटकी लेते हुए कहा कि, 'गीनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड वाले मीटिंग कर रहे हैं, भाजपा वालों का नाम लिखा जाएगा, इनसे ना पेपर कराए जाते हैं ना बिजली ठीक होती है। दो साल से फौज में भर्ती नहीं हुई. एक लाख पद खाली हैं, बच्चे ओवर एज हो रहे हैं। आप तय करों कि आप कैसा भारत बनाना चाहते हैं। खट्टर साहब ने हरियाणा में कितनी नौकरियां दीं? ये देंगे भी नहीं ये युवाओं को गुंडा और बलात्कारी बनाएंगे और अपने बच्चों को विदेश पढ़ने भेजते हैं।'