गाजीपुर बॉर्डर पर BJP कार्यकर्ताओं ने किसानों के साथ की मारपीट, कई किसान घायल

विवादास्पद कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले सात महीनों से आंदोलन कर रहे हैं किसान, बुधवार सुबह बीजेपी कार्यकर्ताओं ने की मारपीट, गुस्साए किसानों ने तोड़ी भाजपाइयों की गाड़ियां

Updated: Jun 30, 2021, 02:30 PM IST

गाजीपुर बॉर्डर पर BJP कार्यकर्ताओं ने किसानों के साथ की मारपीट, कई किसान घायल
Photo Courtesy: Jagran

गाजीपुर। विवादास्पद कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर के किसान राजधानी दिल्ली के तमाम सीमाओं समेत यूपी गेट पर प्रदर्शन कर रहे हैं। यहां गाजीपुर बॉर्डर पर आज सुबह आंदोलन कर रहे किसानों पर हमले की खबर है। बताया जा रहा है कि किसानों पर हमला बीजेपी कार्यकर्ताओं ने किया है। इस घटना के बाद भारतीय किसान यूनियन ने कहा है कि बीजेपी अब आंदोलन को हिंसा से तोड़ना चाहती है।

भारतीय किसान यूनियन (BKU) ने बताया है कि इस घटना में कई किसान घायल हुए हैं। बीकेयू ने ट्वीट किया, 'भाजपा के कार्यकर्ताओं ने आज गाजीपुर बॉर्डर पर फ्लाईवे के बीच मंच के पास भारी संख्या में इकट्ठे होकर किसी नेता के स्वागत के बहाने ढोल बजाकर आंदोलन विरोधी नारे लगाए। भाकियू कार्यकर्ताओं के मना करने पर लाठी डंडों से हमला किया। जिसमे किसान घायल हुए  है।' 

किसान संगठन ने बीजेपी पर आरोप लगाया है कि हिंसा का सहारा लेकर वह आंदोलन को कुचलना चाहती है। बीकेयू ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, 'भाजपा अब आंदोलन को हिंसा से तोड़ना चाहती है जिसका उदाहरण आज की गाजीपुर बॉर्डर पर भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा की गई हिंसा है। सभी किसानों से अनुरोध है इनके बहकावे में ना आएं और अपने आंदोलन को बचाए रखें।'

बताया जा रहा है कि बुधवार सुबह उत्तर प्रदेश के बीजेपी प्रदेश मंत्री अमित बाल्मिकी दिल्ली से यूपी गेट जा रहे थे जहां बड़ी संख्या में इकट्ठा कार्यकर्ताओं द्वारा उनका स्वागत किया जा रहा था। इस दौरान बीजेपी कार्यकर्ता आंदोलन स्थल में घुस गए और किसान आंदोलन के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। इसपर कुछ किसानों ने उन्हें काले झंडे दिखाए और विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई।

यह भी पढ़ें: अयोध्या में पत्रकार पर हुआ जानलेवा हमला, बीजेपी विधायक पर लगा पत्रकार पर हमले का आरोप

किसानों का आरोप है कि बड़ी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उनपर हमला कर दिया और बुजुर्ग लोगों के साथ मारपीट करने लगे। इसके जवाब में किसानों ने भी हाथापाई की। बताया जा रहा है कि उग्र किसानों ने इस दौरान भाजपाइयों के वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। इस घटना के बाद मौके पर भारी पुलिसबल की तैनाती की गई है। सिटी एसपी ज्ञानेंद्र सिंह का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।