अपराधी को पुलिस की गिरफ्त से भगाने वाले बीजेपी नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज, अपराधी और बीजेपी नेता की तलाश में जुटी पुलिस

बीजेपी कानपुर के ज़िला सचिव नारायण भदौरिया ने अपने समर्थकों के साथ बुधवार को पुलिस के काफिले पर हमला कर दिया, पुलिस उस दौरान मनोज सिंह नामक वांटेड अपराधी को पकड़कर अपने साथ ले जा रही थी, करीबी होने के चलते बीजेपी नेता ने अपराधी को पुलिस के चंगुल से भगा दिया

Updated: Jun 03, 2021, 11:23 AM IST

अपराधी को पुलिस की गिरफ्त से भगाने वाले बीजेपी नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज, अपराधी और बीजेपी नेता की तलाश में जुटी पुलिस

कानपुर। मोस्ट वांटेड अपराधी को पुलिस की चंगुल से भगाने वाले बीजेपी नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। कानपुर पुलिस ने अपराधी मनोज सिंह को भगाने वाले बीजेपी नेता नरेंद्र भदौरिया के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। कानपुर पुलिस कमिश्नर असीम अरुण ने बुधवार देर रात जारी बयान में बीजेपी नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज किए जाने की जानकारी दी। 

बुधवार शाम को सोशल मीडिया पर बीजेपी नेता नारायण भदौरिया और उनके समर्थकों का पुलिस के साथ हुई झड़प का एक वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें बीजेपी नेता और उनके समर्थक अपराधी मनोज सिंह को पकड़कर ले जाती पुलिस पर हमला बोल दिया। वायरल वीडियो में बीजेपी नेता की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने नारायण भदौरिया के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। 

यह भी पढ़ें : अपराधी को पकड़ने गई पुलिस पर बीजेपी नेताओं ने किया हमला, अपराधियों को पुलिस की गिरफ्त से भगाया

दरअसल बुधवार को कानपुर के नौबस्ता थाना क्षेत्र के उस्मानपुर से पुलिस इलाके के खूंखार अपराधी मनोज सिंह को गिरफ्तार कर के है रही थी। मनोज सिंह को गिरफ्तार कर ले जाने की जानकारी मिलती नारायण भदौरिया और उनके समर्थक पुलिस के काफिले के सामने इकट्ठा हो गए। पुलिस के साथ झड़प के बाद मनोज सिंह को वहां से भगा दिया गया। मनोज सिंह नारायण भदौरिया का करीबी माना जाता है। उसके खिलाफ दो दर्जन से ज़्यादा मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस इस समय नारायण भदौरिया और मनोज सिंह दोनों की तलाश में जुटी हुई है।