चीन ने नए साल पर गलवान घाटी में फहराया अपना झंडा, पीएम मोदी की चुप्पी पर उठे सवाल

नए साल के मौके पर चीन ने भारतीय भूभाग में झंडा फहराकर वीडियो जारी किया, राहुल गांधी बोले- गलवान में तिरंगा ही अच्छा लगता है, मोदी जी चुप्पी तोड़िए

Updated: Jan 03, 2022, 01:29 PM IST

चीन ने नए साल पर गलवान घाटी में फहराया अपना झंडा, पीएम मोदी की चुप्पी पर उठे सवाल

नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख में चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। वहीं भारत सरकार की चुप्पी ड्रैगन को और शह दे रही है। नए साल के मौके पर चीन ने गलवान घाटी में अपना झंडा फहराने का दुस्साहस किया है। इतना ही नहीं चीन की सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स ने इसका वीडियो भी शेयर किया है। मामले पर भारत सरकार पूर्व की तरह इस बार भी चुप्पी साध रखी है।

ग्लोबल टाइम्स द्वारा जारी वीडियो में भारतीय सीमा के पास गलवान घाटी में चीनी सैनिक अपने नागरिकों को नए साल की बधाई दे रहे है। वीडियो में चीनी सैनिक जहां खड़े हैं, उसके पीछे पहाड़ पर चीनी भाषा में लिखा हुआ नजर आ रहा है की, 'कभी एक इंच जमीन नहीं देंगे।' एक अन्य वीडियो में गलवान घाटी में चीनी सैनिक अपना झंडा फहरा रहे हैं।

सोशल मीडिया पर ये वीडियो आने के बाद देशवासियों में आक्रोश है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा है कि, 'हमारा तिरंगा गलवान में अच्छा दिखता है। चीन को जवाब दिया जाना चाहिए। मोदी जी, चुप्पी तोड़िए।'

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी ने पीएम मोदी पर कटाक्ष करते हुए पूछा कि आखिर उनका 56 इंच का सीना कहां चला गया है? उन्होंने ट्वीट किया, 'नव वर्ष के मौके पर भारत की गलवान घाटी में चीनी झंडा फहराया गया। 56 इंच का चौकीदार कहां हैं?'

फ़िल्म जगत के लोग भी इस घटना को लेकर आक्रोशित हैं। मशहूर गायक विशाल ददलानी इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा, 'हेलो नरेंद्र मोदी, अमित शाह। ‘लाल आंखें’ रहने दो, एक बार बोलकर तो दिखा दो कि ‘चीन ने भारत की जमीन पर कब्जा किया है।’ भाषाओं में इतनी वीरता झाड़ने वालों, अब चुप क्यों बैठे हो? 2-4 ऐप बैन नहीं करोगे। 56 इंच का सीना ‘चीन का माल’ निकला?'

रक्षा विशेषज्ञ मेजर जीडी बख्शी ने भी स्वीकारा है कि सीमा पर चीन गड़बड़ी कर रहा है। बता दें कि हाल ही में चीन ने अरुणाचल प्रदेश में भारतीय भूभाग के 15 स्थानों का नाम बदल दिया था। इस घटना को लेकर भी विपक्ष ने केंद्र से जवाब मांगा था। लेकिन केंद्र सरकार कुछ भी कहने से बच रही है।