ट्विटर का खतरनाक खेल: भारत में बिजनेस नहीं राजनीति कर रही है कंपनी, ट्विटर पर बरसे राहुल गांधी

राहुल गांधी ने वीडियो जारी कर ट्विटर पर साधा निशाना, बोले- हमारी राजनीतिक प्रक्रिया में हस्तक्षेप कर रही है कंपनी, वे सरकार के दबाव में काम कर रहे हैं

Updated: Aug 13, 2021, 12:23 PM IST

ट्विटर का खतरनाक खेल: भारत में बिजनेस नहीं राजनीति कर रही है कंपनी, ट्विटर पर बरसे राहुल गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर की जमकर आलोचना की है। 'ट्विटर का खतरनाक खेल' शीर्षक के साथ राहुल ने एक वीडियो जारी कर कहा है कि कंपनी देश में कारोबार नहीं बल्कि राजनीति कर रही है। कांग्रेस नेता ने ट्विटर पर केंद्र की मोदी सरकार के दबाव में काम करने का भी आरोप लगाया है।

राहुल गांधी ने कहा है कि, 'ट्विटर पर मेरे 2 करोड़ फॉलोवर्स हैं। उन्हें आम राय रखने से रोका जा रहा है। उनके विचारों की अभिव्यक्ति के अधिकार को कुचला जा रहा है। मेरे ट्विटर एकाउंट को बंद करके वे हमारी राजनीतिक प्रक्रिया में हस्तक्षेप कर रहे हैं। एक बाहरी कंपनी हमारी राजनीति को परिभाषित करने के लिए अपना व्यवसाय कर रही है। यह देश के लोकतांत्रिक ढांचे पर हमला है।' राहुल गांधी ने ट्विटर की कार्रवाई को लेकर कहा है की यह न केवल अनुचित है बल्‍कि ये भी दर्शाता है कि ट्विटर अब अपने विचार रखने का जरिया नहीं रह गया है।

लोकतंत्र पर लगातार हमले हो रहे हैं- राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा है कि भारतीय लोकतंत्र पर लगातार हमले हो रहे हैं। उन्होंने कहा, 'हमें संसद में बोलने नहीं दिया जाता है। मीडिया भी सरकार के नियंत्रण में है। मुझे लगता था कि ट्विटर ही एक ऐसा प्लेटफार्म है, जहां आप अपनी बात रख सकते हैं। लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है। ट्विटर भी पक्षपात करता है। वह भी वही करता है जो सरकार कहती है। ये आम लोगों के लिए काफी खतरनाक बात है।' 

राहुल गांधी ने आगे कहा कि, 'भारतीयों के रूप में हमें अब यह सवाल पूछना है- क्या हम कंपनियों को इस बात की अनुमति देने जा रहे हैं कि वह सिर्फ भारत सरकार के लिए हमारी राजनीति को परिभाषित करे? या हम अपनी राजनीति को खुद परिभाषित करेंगे? क्या आने वाले समय में यही होने वाला है?'

क्या है पूरा मामला

दरअसल, पिछले हफ्ते दिल्ली में एक नौ वर्षीय मासूम बच्ची के साथ बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी थी। राहुल गांधी ने बच्ची के मां-बाप से मुलाकात की थी और उन्हें ढांढस बढ़ाकर उनका दुख बांटने का प्रयास किया था। इस दौरान राहुल ने बच्ची के माता-पिता के साथ अपनी तस्वीर ट्वीट करते हुए न्याय की मांग की थी। राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने निजता का उल्लंघन करार देते हुए ट्विटर को राहुल के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। जिसके बाद राहुल का अकाउंट लॉक कर दिया गया। 

यह भी पढ़ें: राहुलमय हुआ ट्विटर: कांग्रेस नेताओं ने एकजुटता दिखाते हुए बदली डीपी, प्रियंका ने BJP का साथ देने का लगाया आरोप

कांग्रेस के सोशल मीडिया सेल के हेड रोहन गुप्ता के मुताबिक पार्टी के ट्विटर ने कांग्रेस के सक्रिय कार्यकर्ताओं के करीब 5 हजार हैंडल्स को सस्पेंड कर दिया है। इसके पहले कांग्रेस ने बुधवार देर रात बताया था कि कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला, पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह और अजय माकन समेत कई दिग्गज नेताओं का हैंडल लॉक कर दिया गया है। वहीं गुरुवार सुबह कांग्रेस का आधिकारिक हैंडल भी लॉक कर दिया गया। कंपनी ने इस कार्रवाई के खिलाफ पॉलिसी वॉइलेशन का हवाला दिया है।