नेपाल में 6.3 तीव्रता का भूकंप, 6 की मौत और दर्जनों घरों को नुक़सान

रात दो बजे के क़रीब आए भूकंप से दिल्ली, हिमाचल और उत्तराखंड तक दहशत, नेपाल का डोटा ज़िला रहा भूकंप का केंद्र

Updated: Nov 09, 2022, 09:16 AM IST

नेपाल में 6.3 तीव्रता का भूकंप, 6 की मौत और दर्जनों घरों को नुक़सान

नई दिल्ली। पड़ोसी देश नेपाल में मंगलवार देर रात 6.3 तीव्रता का भूकंप आया। जिसके झटके राजधानी दिल्ली सहित पूरे उत्तर भारत और चीन में भी महसूस किए गए। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार, भूकंप 9 नवंबर रात करीब एक बजकर 57 मिनट पर आया। एपिसेंटर नेपाल के डोटी जिले का मणिपुर में रहा। इसकी गहराई जमीन से 10 किमी नीचे थी।

नेपाल में डेढ़ घंटे में दो झटके महसूस किए गए। देर रात एक बजकर 57 मिनट के बाद 3 बजकर 15 मिनट पर भूकंप रिकॉर्ड किया गया। इसकी तीव्रता 3.6 रही। दिल्ली के साथ ही नोएडा और गुरुग्राम में भी कई सेकेंड तक भीषण झटके महसूस किए गए। इसके कारण लोग उठ गए और कई लोग अपनी सोसायटी में बाहर निकल आए।

यह भी पढ़ें: गुरु नानक जयंती पर गुरुद्वारा पहुंचे राहुल गांधी, बोले- पूरा करेंगे भारत जोड़ने का संकल्प

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बुधवार तड़के नेपाल में आए भूकंप की वजह से कम से कम 6 लोगों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि डोटी जिले में एक घर गिर गया था, जिसके मलबे में दबने से इन लोगों की मौत हो गई। मुख्य जिला अधिकारी कल्पना श्रेष्ठा ने बताया कि पांच लोग जख्मी हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने कहा, 'पांच जख्मी लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पूरे जिले में अलग-अलग जगह भूस्खलन की वजह से दर्जनों घर ध्वस्त हो गए।'

नेपाल सरकार ने सेना को भूकंप प्रभावित इलाकों में तलाशी और बचाव अभियान के लिए भेजा है। बता दें कि इससे पहले साल 2015 में मध्य नेपाल में राजधानी काठमांडू और पोखरा शहर के बीच रिक्टर पैमाने पर 7.8 तीव्रता का एक उच्च तीव्रता वाला भूकंप आया था। अनुमान है कि इसमें 8,964 लोग मारे गए थे और 22,000 लोग घायल हुए थे।