बॉडी शेमिंग करती है वाइस प्रिंसिपल, हमीदिया नर्सिंग कॉलेज की 131 छात्राओं ने CM से की शिकायत

36 घंटे में सीएम हेल्पलाइन पर हमीदिया नर्सिंग कॉलेज की वाइस प्रिंसिपल रजनी नायर के खिलाफ आई 131 शिकायतें, छात्राओं ने लगाए गंभीर आरोप

Updated: Jul 16, 2022, 02:08 PM IST

बॉडी शेमिंग करती है वाइस प्रिंसिपल, हमीदिया नर्सिंग कॉलेज की 131 छात्राओं ने CM से की शिकायत

भोपाल। हमीदिया अस्पताल परिसर स्थित नर्सिंग कॉलेज की वाइस प्रिंसिपल रजनी नायर के खिलाफ छात्राओं ने गंभीर आरोप लगाए हैं। छात्राओं ने कहा है कि प्रिंसिपल हमारी बॉडी शेमिंग करती है और हमारे चरित्र पर सवाल खड़े करती है। सैंकड़ों छात्राओं ने इस संबंध में सीएम शिवराज सिंह चौहान से शिकायत की है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक वाइस प्रिंसिपल रजनी नायर के खिलाफ सीएम हेल्पलाइन पर 36 घंटे के भीतर 131 शिकायतें प्राप्त हुई है। एक छात्रा ने अपनी शिकायत में लिखा है कि वाइस प्रिंसिपल स्टूडेंट की बॉडी को लेकर कमेंट करती हैं। साथ ही वे जातिसूचक शब्द बोलकर भी अपमानित करती हैं। शादीशुदा स्टूडेंट से कहती हैं कि तुमने एक नए स्टूडेंट की सीट खराब कर दी है। 

छात्राओं के निजी जीवन को लेकर राय बनाती हैं और चरित्रहीन तक कह देती हैं। इस तरह से वह लगातार छात्राओं को मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रही है। छात्राओं के मुताबिक पहले वह क्लास में भी परेशान करती थी लेकिन पिछले एक महीने से जब उन्हें वाइस प्रिंसिपल का प्रभार मिला उसके बाद वह सीधे परेशान करने लगी हैं। 

हालांकि, वाइस प्रिंसिपल रजनी नायर ने इन आरोपों को निराधार बताया है। उन्होंने दावा किया है कि यह कॉलेज के पुरानी प्रिंसिपल का षड्यंत्र है। मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ अरविंद राय ने बताया कि उन्हें शिकायत की जानकारी मिली है। शिकायत के आधार पर तीन सदस्यीय कमेटी गठित की गई है। यह अगले तीन दिन में रिपोर्ट देगी। डॉ रॉय ने कहा कि जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ हम कार्रवाई करेंगे।

यह भी पढ़ें: सीएम शिवराज के गृहक्षेत्र में हारी भाजपा, दिग्विजय सिंह बोले- सिंहासन खाली करो कि जनता आती है

छात्र संगठन एनएसयूआई ने इस पूरे मामले में उच्च स्तरीय जांच की है। एनएसयूआई मेडिकल विंग के समन्यवयक रवि परमार ने कहा कि जिस तरीके से रजनी नायर द्वारा छात्राओं को प्रताड़ित किया जा रहा है यह निंदनीय है। सीएम शिवराज सिंह चौहान को इस मामले में तत्काल हस्तक्षेप करना चाहिए। 131 भांजियों ने शिकायत की है फिर मामाजी देर क्यों कर रहे हैं? जांच से पहले रजनी नायर को सस्पेंड किया जाए। वाइस प्रिंसिपल रहते वह जांच को प्रभावित कर सकती हैं? यदि उन्हें जल्द से जल्द हटाया नहीं जाएगा तो एनएसयूआई मेडिकल विंग उग्र रूप से प्रदर्शन करने को बाध्य हो जाएगी।