होशंगाबाद का नाम बदलने के एलान पर बोले दिग्विजय सिंह, क्या शहरों के नाम बदलने से मिलेगा रोज़गार

होशंगाबाद का नाम बदलने की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की घोषणा पर दिग्विजय सिंह ने पूछा, क्या इससे महंगाई दूर होगी या देश उन्नति करेगा

Updated: Feb 20, 2021, 08:00 PM IST

होशंगाबाद का नाम बदलने के एलान पर बोले दिग्विजय सिंह, क्या शहरों के नाम बदलने से मिलेगा रोज़गार
Photo Courtesy : Times Of India

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने होशंगाबाद का नाम बदलने के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के एलान पर तीखा हमला किया है। दिग्विजय सिंह ने पूछा है कि क्या नाम बदलने से लोगों को रोज़गार मिल जाएगा? या उनकी दूसरी समस्याएं दूर हो जाएंगी? शिवराज के फैसले की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को ये नाटक करना बंद कर देना चाहिए।  

दिग्विजय सिंह शनिवार को भोपाल में मीडिया से बातचीत कर रहे थे। इस दौरान किसी ने उनसे होशंगाबाद का नाम बदलने की शिवराज सिंह की घोषणा के बारे में पूछा। इस पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि क्या शहरों के नाम बदलने से बेरोज़गारी की समस्या ख़त्म की जा सकती है? क्या इससे महंगाई समाप्त होती है? क्या इससे देश उन्नति करेगा? दिग्विजय सिंह ने कहा, आपको जो करना है, वो करिए लेकिन बस ये नौटंकी करना बंद करिए।

यह भी पढ़ें : होशंगाबाद का नाम बदलकर किया जाएगा नर्मदापुरम, मुख्यमंत्री शिवराज का एलान

दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने होशंगाबाद का नाम बदलकर नर्मदापुरम करने का एलान किया है। उन्होंने शुक्रवार को नर्मदा जयंती के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि एक बार पहले भी होशंगाबाद का नाम बदलने की मांग उठी थी। तब हमने संभाग का नाम नर्मदापुरम कर दिया था। लेकिन तब दिल्ली वाले नहीं माने थे, अब तो दिल्ली वाले भी मान जाएंगे।' होशंगाबाद का नाम सन मालवा सल्तनत के बादशाह होशंगशाह के नाम पर है। होशंगाबाद के किले को भी उन्होंने ही बनवाया था। धार जिले के मांडू का मशहूर मकबरा होशंगशाह का ही है।