भारत जोड़ो यात्रा को लेकर MP कांग्रेस की तैयारियां पूरी, मुख्य यात्रा से जुड़ेंगी 15 उपयात्राएं, कमलनाथ ने ली बैठक

मध्य प्रदेश में यात्रा के प्रवेश करने से पहले प्रस्तावित रूट का जायजा लेंगे कमलनाथ, मुख्य यात्रा से इतर राज्यभर में तकरीबन 4 हजार किलोमीटर की 15 उपयात्राएं निकलेंगी, नर्मदा और शिप्रा नदी में स्नान करेंगे राहुल गांधी, महाकाल दर्शन का भी कार्यक्रम

Updated: Sep 09, 2022, 02:46 PM IST

भारत जोड़ो यात्रा को लेकर MP कांग्रेस की तैयारियां पूरी, मुख्य यात्रा से जुड़ेंगी 15 उपयात्राएं, कमलनाथ ने ली बैठक

भोपाल। कांग्रेस की "भारत जोड़ो यात्रा" को दक्षिणभारत में अभूतपूर्व समर्थन मिल रहा है। जैसे-जैसे यह पदयात्रा आगे बढ़ रही है, हजारों की संख्या में लोग इससे जुड़ते जा रहे हैं। चुनावी राज्य मध्य प्रदेश में भी इस यात्रा का अहम पड़ाव होगा। मध्य प्रदेश कांग्रेस ने इस यात्रा की तैयारियां लगभग पूरी कर ली है। कमलनाथ ने शुक्रवार को यात्रा से जुड़ी तैयारियों को लेकर महत्वपूर्ण बैठक की और आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

कमलनाथ के आवास पर शुक्रवार को आयोजित इस बैठक में भारत जोड़ो यात्रा के प्रदेश समन्वयक पीसी शर्मा, संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर, उपाध्यक्ष प्रकाश जैन, कोषाध्यक्ष अशोक सिंह, पूर्व मंत्री सज्जन सिंह समेत अन्य लोग मौजूद थे। जानकारी के मुताबिक पीसीसी चीफ ने इस दौरान कहा कि मध्य प्रदेश में यात्रा के प्रवेश से पहले वे एकबार सड़क मार्ग से रूट का जायजा लेंगे। पूर्व सीएम बुरहानपुर से बड़वाह, बड़वाह से इंदौर और इंदौर से आगर मालवा तक प्रस्तावित रूट का यात्रा करेंगे।

यह भी पढ़ें: BJP-RSS ने देश में नफरत फैलाई, भारत जोड़ो यात्रा देश बांटने वालों के खिलाफ: राहुल गांधी

बैठक के दौरान यात्रा के समन्वयक पीसी शर्मा ने प्रदेश में यात्रा की रूपरेखा प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 15 उपयात्राएं निकलेंगी जो 52 जिलों को कवर करेंगी। यात्रा के दौरान पदयात्री संविधान की प्रति लेकर आगे बढ़ते जाएंगे और अंत में सभी 15 यात्रा मुख्य यात्रा से जुड़ेंगी। करीब 35 दिनों तक प्रदेशभर में इस तरह की उपयात्राएं चलेगी। मुख्य यात्रा से इतर ये 15 उपयात्राएं 4 हजार किलोमीटर चलेंगी। 

यात्रा के लिए निर्धारित रूट के मुताबिक मध्य प्रदेश को पैदल पार करने में कांग्रेस पदयात्रियों को 16 दिन लगेंगे। यात्रा पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र के जलगांव जामोद से मध्य प्रदेश में प्रवेश करेगी। मध्य प्रदेश में पहला पड़ाव 26 नवंबर को बुरहानपुर जिले का बोदारली होगा। यहां से खंडवा, सनावद, बड़वाह, इंदौर, उज्जैन होते हुए आगर मालवा जिले की सुसनेर विधानसभा से राजस्थान के कोटा जिले में जाएगी। मध्य प्रदेश में मुख्य यात्रा करीब 382 किलोमीटर की होगी जो राज्य के 7 लोकसभा और 18 विधानसभा क्षेत्रों से गुजरेगी।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा का तीसरा दिन आज, कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ रहे पदयात्री

रिपोर्ट्स के मुताबिक राहुल गांधी नर्मदा एवं शिप्रा में डुबकी लगाकर आशीर्वाद लेंगे, साथ ही बाबा महाकाल के दर्शन के लिए उज्जैन भी जाएंगे। उज्जैन में वे एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। मध्य प्रदेश में आम लोगों खासकर किसानों को भारत जोड़ो यात्रा से जोड़ने के लिए तेजी से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन भी किया जा रहा है। 

मध्य प्रदेश के लिए यह यात्रा न सिर्फ विधानसभा चुनाव को लेकर ही अहम है बल्कि इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि भारत जोड़ो यात्रा आयोजन समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह का गृहराज्य भी है। ऐसे में कांग्रेस यहां अन्य राज्यों से ज्यादा व्यापक जनसमर्थन जुटाने की तैयारी में है।