भाजपा पदाधिकारी ने की अपनी पत्नी की हत्या, चाकू और पत्थर से हमला कर उतारा मौत के घाट

रिपोर्ट्स के मुताबिक रजत कैथवास अपनी पत्नी शिखा उर्फ नैना को दर्शन कराने के बहाने बुदनी ले गया था, इसी दौरान उसने अपनी पत्नी पर चाकुओं और पत्थर से हमला कर दिया, गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी और शव को जंगल में फेंक दिया, हत्यारा पति खुद को भाजपा का पदाधिकारी बताता है

Updated: Oct 19, 2021, 02:53 PM IST

भाजपा पदाधिकारी ने की अपनी पत्नी की हत्या, चाकू और पत्थर से हमला कर उतारा मौत के घाट

भोपाल। राजधानी में हत्या का एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। खुद को भाजपा का पदाधिकारी बताने वाले एक पति ने अपनी पत्नी की हत्या कर उसके शव को जंगल में फेंक दिया। पत्नी के घर वालों द्वारा गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद पुलिस को मृतक शिखा का शव बुदनी के पास के एक जंगल में मिला। पुलिस ने हत्यारे पति को हिरासत में ले लिया है। पति ने अपना जुर्म भी कबूल लिया है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रजत कैथवास 15 अक्टूबर को नैना को बुदनी में धार्मिक स्थल के दर्शन कराने के बहाने स्कूटी पर सवार होकर अपने साथ ले गया था। इसी दौरान उसने अचानक नैना पर चाकुओं से हमला शुरू कर दिया। हत्यारे पति ने नैना के ऊपर पत्थर से हमला किया। इसके बाद उसने नैना का गला घोंटकर उसे मौत के घाट उतार दिया। 

नैना की हत्या करने के बाद उसने शव को जंगल में फेंक दिया। भोपाल वापस आने के बाद हत्यारे पति ने अपनी स्कूटी को भी आग के हवाले कर दिया और अपने घर चला गया।उधर मृतक नैना के घर वाले अपनी बेटी के गुम होने के कारण परेशान होते रहे। नैना का फोन बंद आने पर उन्होंने पुलिस में नैना की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। नैना की गुमशुदगी के बीच सीहोर पुलिस को राष्ट्रीय राजमार्ग-69 पर मिडघाट सेक्शन के पास एक अज्ञात शव बरामद हुआ। अज्ञात शव की पहचान मृतक नैना के रूप में हुई। जिसके बाद पुलिस ने नैना के पति को धर दबोच लिया।

नारियालखेड़ा निवासी रजत कैतवास की शादी शिखा पासवान उर्फ नैना से हुई थी। एक साल पहले दोनों का प्रेम विवाह हुआ था। लेकिन शादी के एक महीने बाद ही ससुराल वालों से तंग आकर नैना कोलार थाना क्षेत्र स्थित अपने पिता के घर आ गई। नैना के परिजनों का आरोप है कि रजत कैथवास ने नैना को अपने प्यार के जाल में फांस कर उसका वीडियो बना लिया। ब्लैकमेलिंग कर पहले हत्यारे पति ने उससे शादी की और फिर इसके बाद उसके साथ मारपीट करने लगा। जिसके बाद नैना अपने घर आ गई। नैना के पिता शारदा पासवान बैंक में कर्मचारी हैं। नैना अपने पिता के घर पर रहकर ब्यूटीशियन का काम करती थी।