शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार की बहू ने लगाई फांसी, पारिवारिक विवाद हो सकता है वजह

सविता परमार ने करीब शाम 7 बजे फांसी लगा ली, जब फंदे से उतार गया, तब मौत हो चुकी थी। शव का पोस्टमार्टम बुधवार को सुबह होगा

Updated: May 11, 2022, 08:07 AM IST

शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार की बहू ने लगाई फांसी, पारिवारिक विवाद हो सकता है वजह
Courtesy: Bhaskar

शाजापुर। मध्य प्रदेश के शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार की बहू सविता परमार ने आत्महत्या कर ली है। उन्होंने उनके गांव स्थित घर में फांसी लगाई है। सविता परमार की उम्र 22 वर्ष थी। इस हादसे के बाद उनके गांव में सन्नाटा छा गया है। अभी आत्महत्या करने के पीछे के कारणों का खुलासा नहीं हो सका है, सूत्र बता रहे हैं कि आत्महत्या का कारण पारिवारिक विवाद हो सकता है।

यह भी पढ़ें: MP में कुपोषित हैं 10 लाख से ज्यादा बच्चे, दिग्विजय सिंह ने सीएम शिवराज को लिखा पत्र

यह बुरी खबर मंगलवार देर रात को आई है। इस घटना के बाद इंदर सिंह परमार के कालापीपल तहसील के पोंचानेर गांव में सभी सदमे में हैं। मिली जानकारी के अनुसार सविता परमार ने करीब शाम 7 बजे फांसी लगा ली। जब फंदे से उतारा गया, तब तक मौत हो चुकी थी। शव का पोस्टमार्टम बुधवार को सुबह होगा। इस घटना की पुष्टि सविता के परिजनों ने की है।

यह भी पढ़ें: देश में बढ़ता खाद्यान्न संकट, तेल के बाद आटे के दाम में बढ़ोतरी

परमार के बेटे देवराज परमार और सविता की शादी को तीन साल हुए थे। मंत्री का परिवार अभी इस संबंध में कुछ बोलने से बच रहा है। मामला हाइप्रोफाइल होने के कारण पुलिस भी चुप ही है। सविता का मायका शाजापुर के ही ग्राम हड़लायकलां गांव में है। घटना के समय इंदर सिंह परमार भोपाल में थे, जबकि बेटा देवराज मोहम्मदखेड़ा में एक समाराह में गया हुआ था।