इंदौर में मानव तस्कर गिरोह का भंडाफोड़, सरगना समेत 9 गिरफ्तार

इंदौर पुलिस ने बुधवार को मानव तस्कर गिरोह के सरगना मामून हुसैन को गिरफ्तार किया है, पुलिस के मुताबिक मामून हुसैन बांग्लादेश से युवतियों को भारत में अवैध तरीके से प्रवेश दिलाता था और देश के कई हिस्सों में देह व्यापार के धंधे में उतार दिया करता था

Publish: Nov 25, 2021, 07:30 AM IST

इंदौर में मानव तस्कर गिरोह का भंडाफोड़, सरगना समेत 9 गिरफ्तार

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर में मानव तस्करी के एक बड़े गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है। इंदौर पुलिस ने मानव तस्कर गिरोह के सरगना समेत कुल नौ लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार लोगों में चार युवतियां भी शामिल हैं। 

इंदौर पुलिस की गिरफ्त में गिरोह का सरगना मामून हुसैन आया है। मामून हुसैन बांग्लादेश की युवतियों को अवैध तरीके से भारत में प्रवेश दिलाया करता था। युवतियों को भारत में प्रवेश दिलाने के बाद उन्हें देश के विभिन्न हिस्सों में देह व्यवापार के धंधे में उतरने के लिए भेज दिया जाता था। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मामून हुसैन बिचौलियों की मदद से कर्नाटक, मध्य प्रदेश, गुजरात और तमिलनाडु में युवतियों को भेजा करता था। युवतियों को भारत में काम दिलाने के बहाने भारत में लाया जाता था। युवतियों को अपने जाल में फांसने में खुद बांग्लादेश में रहने वाली मामून की पत्नी उसकी मदद किया करती थी। 

इंदौर पुलिस ने मीडिया को बताया है कि मामून हुसैन बीते दस सालों से भारत में देह व्यवापार का धंधा चला रहा था। अब तक हजारों युवतियों को वह देह व्यापार के धंधे में उतार चुका है। वह देश की आर्थिक राजधानी मुंबई से इस रैकेट को चला रहा था।

मामून हुसैन पर दस हजार का इनाम भी रखा गया था। 41 वर्षीय मामून हुसैन खुद करीब 25 वर्ष पहले बांग्लादेश से भारत आया था। भारत आने के बाद वह फर्जी पहचान के जरिए राशन कार्ड हासिल करने में कामयाब हो गया। भारत में मामून हुसैन ने एक अन्य महिला से शादी भी की थी। मामून भारत में विजय दत्त के नाम से रह रहा था।