MP में भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा नेशनल हाइवे, पहली बारिश में ही धंसा, 559 करोड़ की लागत से हुआ था निर्माण

उद्घाटन के एक साल भी नहीं हुए और पानी में बह गया राष्ट्रीय राजमार्ग, गुणवत्ता पर उठ रहे गंभीर सवाल, कांग्रेस बोली- घोटालों के सारे पुरस्कार सीएम शिवराज को जाते हैं

Updated: Jul 25, 2022, 03:12 PM IST

MP में भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा नेशनल हाइवे, पहली बारिश में ही धंसा, 559 करोड़ की लागत से हुआ था निर्माण

भोपाल। मध्य प्रदेश में बारिश का दौरा लगातार जारी है। राज्य के कई जिलों में बाढ़ से हालात बन गए हैं। बारिश ने राज्य में सड़क निर्माण के दौरान किए गए गुणवत्ता के तमाम दावों की पोल भी खोल दी है। बारिश के कारण 559 करोड़ की लागत से निर्मित भोपाल-जबलपुर नेशनल हाइवे धंस गया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक कलियासोत डैम के फाटक खोलने के बाद मंडीदीप में NH46 की दीवार पानी के मामूली बहाव भी नहीं झेल पाई। सर्विस रोड की दीवार बहने से सड़क में भी दरारें आ गई और धीरे धीरे करीब 40 मीटर तक सड़क धंस गई। सड़क बहने के बाद प्रशासन ने बैरीकेडिंग कर ट्रैफिक को डायवर्ट किया है। 

बता दें कि यह हाइवे और पुल पहले ही घटिया निर्माण के चलते विवाद में रह चुका है। पुल का निर्माण सीडीएस (CDS) कंपनी ने करवाया है और इसी साल से यह हाइवे शुरू हुआ था। गनीमत रही है कि दिन से समय हाइवे धंसी और कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ। चंद दिनों में ही एक्‍सप्रेसवे का यह हाल देखकर स्थानीय लोग हैरान और गुस्‍से में हैं। जिम्मेदार कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी हो रही है।

कांग्रेस ने इस घटना को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा है। मध्य प्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट किया, 'शिवराज के भ्रष्टाचार के ताज़ा दृश्य, बारिश में बहा अभी-अभी बना राजमार्ग। शिवराज जी, घोटालों के सारे पुरस्कार आपको जाते हैं।'