3 दिन से ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहा है खरगोन का जिला अस्पताल, मरीज़ खुद ढो रहे हैं सिलेंडर

खगरोन के सरकारी अस्पताल में जोखिम में मरीजों की जान, ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी से हो रही परेशानी, अस्पताल का स्टाफ नदारद, देर रात सिलेंडर आने पर मरीजों ने खुद सिलेंडर ढोए, कांगेस ने साधा सरकार पर निशाना

Updated: Apr 07, 2021, 02:16 PM IST

3 दिन से ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहा है खरगोन का जिला अस्पताल, मरीज़ खुद ढो रहे हैं सिलेंडर

खरगोन। मध्यप्रदेश के सरकारी अस्पतालों का हाल बेहाल है। अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी हो रही है। ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी से मरीजों की जान पर बन आई है। वहीं परिजनों को भी सिलेंडर के लिए परेशान होना पड़ रह है। खरगोन के शासकीय ज़िला अस्पताल में तीन दिनों से आक्सीजन सिलेंडर नहीं होने से मरीज परेशान हैं। यहां तीन दिनों से ऑक्सीजन सिलेंडर की शार्टेज है।

खरगोन में मंगलवार रात में ऑक्सीजन की कमी की वजह से मरीजों की जान पर बन आई। खरगोन के कोविड आईसीयू में भर्ती कई मरीजों को सांस लेने में परेशानी थी, जिसके लिए आक्सीजन नहीं मिल पा रहा था। जिसका वीडियो सोशल मीडिया वीडियो वायरल हो गया। इस वीडियो के आने के बाद चारों ओर हड़कंप मच गया। वहीं इस बारे में खरगोन के सिविल सर्जन डॉक्टर दिव्येश वर्मा ने सफाई दी है कि अस्पताल में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। लेकिन तस्वीरें तो पूरी कहानी बयां कर रही है।

बड़ी मशक्कत के बाद देर रात आनन-फानन में ऑक्सीजन सिलेंडर अस्पताल लाए गए। तब वहां अस्पताल का कोई कर्मचारी नहीं था, न ही बार्ड ब्वाय जिसकी वजह से मरीजों औऱ उनके परिजनों को खुद ऑक्सीजन सिलेंडर धकेल कर ले जाने पड़े।

और पढ़ें: प्रदेश में कहीं ऑक्सीजन तो कहीं इंजेक्शन की कमी से जूझ रहे लोग, लेकिन मुख्यमंत्री योगा करने में व्यस्त

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सरकार पर निशाना साधा है। अस्पताल की बदहाली का वीडियो शेयर करते हुए दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया है कि ‘शिवराज जी आपका “सत्याग्रह” नाटक ख़त्म कर कोरोना के मरीज़ों पर ध्यान दें। कांग्रेस नेता ने मुख्यमंत्री के सत्याग्रह पर चुटकी लेते हुए इसे नाटक नौटंकी बताया है, उन्होंने लिखा है कि नाटक नौटंकी अब बहुत हो चुकी है।

 

दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 24 घंटे के स्वास्थ्य आग्रह पर बैठे थे। बुधवार को मुख्यमंत्री ने धर्मगुरुओं से भी बात कर रहे हैं। 

और पढ़ें: रेमडेसिविर इंजेक्शन मुझे दो, मैं जरूरतमंदों तक पहुंचाउंगा, कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला की शिवराज सरकार से मांग 

इधर, प्रदेश में रोज़ाना कोरोना के मरीज़ों की तादाद बढ़ रही है, बीते 24 घंटों में भी 4043 मरीज कोविड से संक्रमित पाए गए हैं। बताया जा रहा है कि गुजरात ने मध्यप्रदेश में आक्सीजन सप्लाई रोक दी है। जिसके बाद अब कोरोना मरीजों को ऑक्सीजन की कमी से जूझना पड़ सकता है। भोपाल को गुजरात से 100 टन तक ऑक्सीजन सप्लाई होती रही है। लेकिन अब आक्सीजन सप्लाई रुकने से परेशानी बढ़ सकती है।