मध्यप्रदेश में लगातार दूसरे दिन भी प्रीमियम पेट्रोल की कीमतें 100 के पार, जनता त्रस्त

मध्यप्रदेश में पूरे भारत मे पेट्रोल और डीजल पर सबसे ज्यादा वैट वसूलने वाला राज्य है। यहां पेट्रोल पर 33 फीसदी वैट लगता है। इसके अलावा डीजल पर 4.50 सेस भी लगाया जाता है।

Updated: May 25, 2021, 05:19 PM IST

मध्यप्रदेश में लगातार दूसरे दिन भी प्रीमियम पेट्रोल की कीमतें 100 के पार, जनता त्रस्त
Photo courtesy: ABP

भोपाल मध्य प्रदेश में डीजल - पेट्रोल की कीमतों में लगातार बढ़ोत्तरी दर्ज की जा रही हैं। आम लोगों का कोरोना महामारी से बुरा हाल है ऐसे में इस समय तेल का दाम फिर बढ़ना आम लोगों को चिंता में डाल दिया है। मध्यप्रदेश में पेट्रोल -डीजल के साथ सिलेंडर के दाम भी बढ़ रहे हैं। राजधानी भोपाल में पेट्रोल बढ़कर 101.45 रुपए प्रति लीटर हो गया है। लगातार दूसरे दिन 23 पैसे की बढ़ोतरी हुई है।

दरअसल मध्य प्रदेश पूरे भारत में पेट्रोल और डीजल पर सबसे ज्यादा वैट वसूलने वाला राज्य है। यहां पेट्रोल पर 33 फीसदी वैट लगता है और इसके अलावा हर लीटर पर ₹4.50 सेस भी लगाया जाता है। इसी तरह डीजल पर 23 फीसदी वेट के अलावा ₹3 प्रति लीटर सेस देना होता है। लगातार महंगे होते पेट्रोल पर विपक्षी पार्टी सत्तारूढ़ पार्टी को घेरती रहती है।

प्रदेश में एक वक्त तक अनूपपुर और मंडला जिले में सबसे महंगा पेट्रोल बिक रहा था। लेकिन रीवा जिले ने मंडला को पीछे छोड़ते हुए दूसरा स्थान हासिल कर लिया। यहां सामान्य पेट्रोल के दाम 102 रुपए लीटर हैं। वहीं पेट्रोल भरवा रहे लोगों का मानना है कि सरकार को चाहिए कि पेट्रोल के दाम कम करे। पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ने से आम जनता को मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है। बुधवार को राजधानी भोपाल में डीजल 92.70 पैसे  प्रति लीटर बिका। डीजल में भी दूसरे दिन 26 पैसे की बढ़ोतरी हुई, लगातार डीजल- पेट्रोल के बढ़ते दामों से जनता बेहाल हैं।


बता दें, मुंबई में अब एक लीटर पेट्रोल का दाम 99.49 रुपये जबकि डीजल 91.30 रुपये प्रति लीटर पहुंच गया है। वैट (मूल्य वर्धित कर) जैसे स्थानीय करों और माल ढुलाई शुल्क के कारण ईंधन के दाम हर राज्य में अलग-अलग हैं। राजस्थान में पेट्रोल पर वैट सर्वाधिक है। उसके बाद मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र का स्थान है। तेल कंपनियां अंतरराष्ट्रीय बाजार में पिछले 15 दिनों में मानक ईंधन के औसत मूल्य और विनिमय दर के आधार पर रोजाना कीमतों में संशोधन करती हैं।

 

चार मई के बाद ईंधन के दाम में यह 14 वीं बार वृद्धि की गयी है। उससे पहले, पश्चिम बंगाल समेत अन्य राज्यों में विधानसभा चुनावों के कारण 18 दिनों तक ईंधन के दाम में कोई बदलाव नहीं किया गया था। राजस्थान के श्री गंगानगर जिले में पेट्रोल और डीजल सबसे महंगा है। वहां पेट्रोल जहां 104.18 रुपये प्रति लीटर है वहीं डीजल 96.91 रुपये प्रति लीटर। इस महीने 12वीं बार दाम बढ़ने से पेट्रोल 2.81 रुपये लीटर और डीजल की कीमत 3.34 रुपये प्रति लीटर बढ़ी है।