Digvijaya Singh: सरकारी योजनाओं में भ्रष्टाचार की निष्पक्ष जांच करवाएं सीएम शिवराज

MP Scam: वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना में भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया, जुलाई में नहीं मिला था राशन

Updated: Oct 11, 2020, 10:23 AM IST

Digvijaya Singh: सरकारी योजनाओं में भ्रष्टाचार की निष्पक्ष जांच करवाएं सीएम शिवराज
Photo Courtesy: Economic Times

भोपाल। राज्यसभा सांसद व मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने रायसेन जिले में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना में हुए भ्रष्टाचार को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा है। पत्र के माध्यम से उन्होंने मांग की है कि सरकारी योजना में हुए भ्रष्टाचार की निष्पक्ष जांच की जाए। कांग्रेस नेता ने अपने पत्र के माध्यम से बताया है कि रायसेन जिले के औबेदुल्ला गंज ब्लाॅक के हितग्राहियों को योजना के तहत मिलने वाला राशन जुलाई महीने में नहीं मिला था। उन्होंने मांग की है कि कोरोना महामारी के दौरान गरीबी की मार झेल रहे नागरिकों को न्याय मिलना चाहिए। 

दिग्विजय सिंह ने बताया कि औबेदुल्ला गंज ब्लॉक् के सहायक खाद्य अधिकारी भानुप्रसाद शर्मा व 97 सेल्समेनों ने मिलकर जुलाई माह का 7757 क्विन्टल गेंहू, 1939 क्विन्टल चावल व 411 क्विन्टल चना पूरी तरह से गायब कर दिया। जिला कलेक्टर रायसेन के रहते प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न  योजना में भ्रष्टाचार हुआ है। उनकी मांग है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल से उच्चस्तरीय टीम भेज कर इस मामले में भ्रष्टाचार की निष्पक्ष जांच करने के निर्देश दें।