अशोकनगर में मां के हाथों ममता का खून, महिला ने अपने 8 महीने के बेटे को गला काटकर मार डाला

मध्य प्रदेश के अशोकनगर जिले की दिल दहलाने वाली वारदात, मां ने अपने मासूम बेटे को सड़क पर लिटाकर कुल्हाड़ी से काट दी गर्दन, महिला की मानसिक हालत ठीक नहीं

Updated: Jan 18, 2021, 09:01 PM IST

अशोकनगर में मां के हाथों ममता का खून, महिला ने अपने 8 महीने के बेटे को गला काटकर मार डाला

अशोकनगर। मध्य प्रदेश के अशोकनगर में ऐसी भयानक वारदात हुई है, जिसे सुनकर किसी का भी दिल दहल उठेगा। ज़िले के चुरारी में एक मां ने बड़ी बेदर्दी से अपने आठ महीने के मासूम बेटे का गला काट डाला। आरोप है कि महिला ने अपने बेटे को पहले तो सड़क पर लिटाया और फिर बड़ी बेरहमी से कुल्हाड़ी मारकर उसके सर को धड़ से अलग कर दिया।  

जानकारी के मुताबिक आरोपी रश्मि लोधी की दो वर्ष पहले लक्ष्मण लोधी से शादी हुई थी। शादी के बाद वह अपने पति के साथ इंदौर में रहती थी। ढाई महीने पहले वह अपने मासूम बेटे यशराज के साथ मायके चुरारी आई थी। शनिवार सुबह तकरीबन 11 बजे आरोपी की बहन आठ महीने के यशराज को खिला रही थी। इसी दौरान रश्मि ने आकर अपने बेटे को ले लिया और घर से बाहर चली गई।

इसके बाद रश्मि ने घर से करीब 70 फीट दूर सड़क पर यशराज को रख दिया और कुल्हाड़ी से उस मासूम का सर काट डाला। कुछ देर बाद वह चिल्लाते हुए घर आई और बोली बकरा कट गया। जब रश्मि की मां और बहन दौड़कर घर के बाहर आए तो यशराज खून से लथपथ मिला। रश्मि की मां ने जब उससे पूछा कि ये तूने क्या किया तो उसने जवाब दिया कि जिसका बकरा था उसने ले लिया।

यह भी पढ़ें: मुरैना जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपी चेन्नई में गिरफ्तार

इसके बाद बच्चे की नानी आनन-फानन में बच्चे को लेकर चंदेरी अस्पताल पहुंची। उसने अस्पताल में बच्चा ऊंचाई से गिरकर घायल हो गया है। डॉक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। लेकिन अगले दिन बच्चे के नाना जानकी प्रसाद ने अपनी बेटी के अपराध के बारे में पुलिस को बता दिया। इसके बाद पुलिस ने आरोपी महिला को गिरफ्तार करके चंदेरी अस्पताल में मानसिक इलाज़ के लिए भर्ती कराया है। घटना के विवरण और महिला को मानसिक इलाज़ के लिए भर्ती कराए जाने से ज़ाहिर है कि रश्मि की दिमागी हालत ठीक नहीं है। बताया ये भी जा रहा है कि महिला कुछ दिनों से कथित बाबा से काफी प्रभावित थी और अक्सर यूट्यूब पर उनके प्रवचन सुना करती थी। हालांकि यह साफ नहीं है कि उसकी मानसिक हालत और अपने ही बच्चे की बेदर्दी से हत्या करने का उस कथित बाबा और उसके प्रवचन से कोई संबंध है या नहीं।