UP के बांदा में बड़ा हादसा, यमुना में डूबी यात्रियों से भरी नाव, तीन लोगों की मौत, 17 अब भी लापता

रक्षाबंधन के दिन यूपी के बांदा में एक बड़ा हादसा हो गया। फतेहपुर से मरका गांव जा रही यमुना नदी में 35 यात्रियों से भरी एक नाव पलट गई। घटना में अभी तक 3 लोगों की मौत की खबर है, लापता लोगों की तलाश जारी है।

Updated: Aug 12, 2022, 09:03 AM IST

UP के बांदा में बड़ा हादसा, यमुना में डूबी यात्रियों से भरी नाव, तीन लोगों की मौत, 17 अब भी लापता

बांदा। रक्षाबंधन के दिन उत्तर प्रदेश के बांदा में एक बड़ा हादसा हो गया। फतेहपुर से मरका गांव जा रही 35 यात्रियों से भरी एक नाव यमुना नदी पार कर रही थी, तभी अचानक तेज बहाव के चलते भंवर में फंस गई। थोड़े ही देर में नाव पलट गई। इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि 17 अब भी लापता हैं।

जानकारी के मुताबिक पुलिस और गोताखोरों ने 18 लोगों को नदी से बाहर निकाल लिया जिसमें से तीन की मौत हो गई व 15 लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अन्य 17 लोगों की तलाश की जा रही है। घटना की जानकारी मिलते ही संबंधित थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और गोताखोरों की मदद से बचाव कार्य में जुट गई है। हालांकि, बहाव ज्यादा होने के कारण परेशानी हो रही है।

यह भी पढ़ें: जानवर भी इसे नहीं खाएंगे, मेस का खाना थाली में लेकर फूट-फूटकर रोया जवान, वीडियो वायरल

दरअसल, मानसून की बारिश के चलते हरियाणा के यमुनानगर में हथिनी कुंड बैराज में पानी का स्तर बढ़ गया। ऐसे में बैराज से सुबह करीब 6 बजे 70 हजार क्यूसेक से ऊपर पानी छोड़ा गया। जिसके चलते यूपी की तरफ जाने वाली यमुना नदी में पानी का तेज बहाव होने लगा। जिसकी चपेट में बांदा में नाव सवार लोग आ गए।

बताया जा रहा है कि नाव में सवार में लोग रक्षाबंधन पर्व पर अपने परिजनों से मिलने जा रहे थे। रक्षाबंधन पर्व पर हुए हादसे के चलते क्षेत्र में अफरा-तफरी का माहौल बना है। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने बांदा में नाव दुर्घटना में लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया है। शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की। सीएम ने जिला प्रशासन के अधिकारियों, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमों को तुरंत मौके पर पहुंचकर बचाव, राहत कार्य करने का निर्देश दिया है।