कैप्टन अमरिंदर सिंह के बेटे रनिंदर सिंह को ED ने भेजा समन, गैरकानूनी विदेशी फंड से जुड़ा है मामला

ED ने 27 अक्टूबर को रनिंदर सिंह को पूछताछ के लिए बुलाया, इसी मामले में 2016 में भी हुई थी पूछताछ, उनके वकील ने कहा, पुराने मामले में समन भेजने की टाइमिंग संदेह पैदा करने वाली है

Updated: Oct 24, 2020, 04:48 PM IST

कैप्टन अमरिंदर सिंह के बेटे रनिंदर सिंह को ED ने भेजा समन, गैरकानूनी विदेशी फंड से जुड़ा है मामला
Photo Courtesy: Indian Express

लुधियाना। कथित गैरकानूनी विदेशी फंड मामले में ईडी ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के बेटे रनिंदर सिंह को समन भेजा है। रनिंदर सिंह को 27 अक्टूबर को ई़डी के सामने पूछताछ के लिए पेश होना होगा। इससे पहले अगस्त में ईडी ने इस मामले में इनकम टैक्स विभाग द्वारा दायर किए गए नए दस्तावेजों को देखने के लिए लुधियाना कोर्ट में तीन एप्लिकेशन दायर की थीं। आयकर विभाग ने रनिंदर सिंह के साथ उनके पिता कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ भी नए दस्तावेज जमा किए थे। 

इस मामले में रनिंदर सिंह 2016 में भी ईडी के सामने पेश हो चुके हैं। तब उन्होंने कहा था कि उनके पास कुछ भी छिपाने को नहीं है और वे इस जांच में सहयोग करने के लिए तैयार हैं। दूसरी तरफ अब नया समन आने पर कांग्रेस पार्टी ने इसे केंद्र सरकार की बदले की कार्रवाई बताया है। पार्टी का कहना है कि क्योंकि नए केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ अमरिंदर सिंह मुखर रहे हैं, इसलिए ईडी से समन भिजवाकर उन्हें डराने की कोशिश की जा रही है। 

वहीं रनिंदर सिंह के वकील जयवीर शेरगिल ने कहा कि उनके मुवक्किल कानून का पालन करने वाले नागरिक हैं और वे जांच में सहयोग करना जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि यह एक पुराना मामला है और ईडी ने जिस समय यह समन भेजा है वह संदेहास्पद है। 

बताया जा रहा है कि रनिंदर सिंह को फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट (FEMA)के तहत यह समन भेजा गया है। आरोप है कि रनिंदर सिंह ने कथित तौर पर वर्जिन आईलैंड्स पर बने एक ट्रस्ट में अपने मालिकाना हक के बारे में झूठ बोला है। आयकर विभाग का कहना है कि रनिंदर सिंह ने विभाग को उसकी जांच से भटकाने की कोशिश की है।