लोकसभा से कांग्रेस के चार सांसद सस्पेंड, बढ़ती महंगाई के खिलाफ कर रहे थे प्रदर्शन

जिन कांग्रेसी सांसदों को सस्‍पेंड किया गया है उनमें मणिकम टैगोर, जोतिमनी, रम्‍या हरिदास और टीएन प्रतापन शामिल हैं, लोकसभा की कार्यवाही भी कल तक के लिए स्थगित कर दी गई

Updated: Jul 26, 2022, 09:16 AM IST

लोकसभा से कांग्रेस के चार सांसद सस्पेंड, बढ़ती महंगाई के खिलाफ कर रहे थे प्रदर्शन

नई दिल्ली। महंगाई के खिलाफ आवाज उठाना विपक्ष को भारी पड़ गया है। सोमवार को विपक्षी दल कांग्रेस के चार सांसदों को लोकसभा से सस्पेंड कर दिया गया। ये सभी सांसद लगातार मूल्यवृद्धि के खिलाफ आवाज उठा रहे थे। लोकसभा के स्पीकर ओम बिरला ने ये कार्रवाई की है। उन्हें पूरे सत्र के लिए सदन से निलंबित किया गया है।

जिन कांग्रेसी सांसदों को सस्‍पेंड किया गया है उनमें मणिकम टैगोर, जोतिमनी, रम्‍या हरिदास और टीएन प्रतापन शामिल हैं। निलंबित सांसद गांधी प्रतिमा के समक्ष विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। दरअसल, ये सांसद महंगाई के खिलाफ सदन के अंदर तख्तियां लेकर सांकेतिक विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। इससे पहले पीठासीन सभापति ने सांसदों को कहा कि अगर वे विरोध करना चाहते हैं तो सदन के अंदर मर्यादा को बनाए रखें। यदि तख्तियों के साथ विरोध करना है तो संसद के बाहर करें।

यह भी पढ़ें: महात्मा गांधी के समय राजनीति देश के लिए होती थी, अब सिर्फ सत्ता के लिए होती है: नितिन गडकरी

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने विपक्षी सांसदों को चेतावनी हुए कहा था कि वह दोपहर 3 बजे के बाद महंगाई के मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार हैं, लेकिन सदन के अंदर किसी भी विरोध को बर्दाश्त नहीं करेंगे। स्पीकर ने कहा, 'अगर आप तख्तियां दिखाना चाहते हैं, तो सदन के बाहर ऐसा प्रदर्शन करें। मैं चर्चा के लिए तैयार हूं, लेकिन मुझे नहीं लगता कि मेरी दयालुता मेरी कमजोरी है।' बाद में उन्होंने कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी।

गौरतलब है कि बढ़ती महंगाई और जरूरी वस्‍तुओं पर जीएसटी के मुद्दे पर तख्तियां और बैनर लेकर प्रदर्शन करने वाले विपक्ष के सांसद मांग कर रहे हैं कि पीएम नरेंद्र मोदी संसद में आए और इन मु्द्दों पर उनकी बात को सुनें। विपक्ष लगातार महंगाई के मसले पर चर्चा की मांग कर रहा है। लेकिन प्रधानमंत्री मोदी महंगाई पर संसद में चर्चा करने से बच रहे हैं।