राजस्थान में सियासी घटनाक्रम तेज, पायलट गुट के विधायक ने दिया इस्तीफा

राजस्थान के कद्दावर जाट नेता व पूर्व कैबिनेट मंत्री हेमाराम चौधरी ने दिया विधायक पद से इस्तीफा, सीएम गहलोत के कामकाज से नाराज थे चौधरी

Updated: May 19, 2021, 10:56 AM IST

राजस्थान में सियासी घटनाक्रम तेज, पायलट गुट के विधायक ने दिया इस्तीफा
Photo Courtesy: Hindustan

जयपुर। राजस्थान में सीएम अशोक गहलोत और सचिन पायलट गुट के बीच एक बार फिर अंतर्कलह उभरकर सामने आई है। सचिन पायलट खेमे के कद्दावर नेता हेमाराम चौधरी ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है। बताया जा रहा है कि बाड़मेर के गुड़ामालानी विधानसभा क्षेत्र से विधायक हेमाराम चौधरी गहलोत को कामकाज से नाराज चल रहे थे। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक हेमाराम चौधरी ने डाक के माध्यम से विधानसभा अध्यक्ष को अपना इस्तीफा भेजा है। इस्तीफे की पुष्टि करते हुए उन्होंने कहा है कि वह पार्टी नहीं छोड़ेंगे। चौधरी ने अप्रत्यक्ष रूप से सीएम गहलोत पर निशाना साधते हुए कहा, 'सरकार की दुश्मनी मुझसे है, लेकिन मेरे क्षेत्र की अनदेखी अब बर्दाश्त नहीं होती। कांग्रेस पार्टी नहीं छोड़ूंगा।'

यह भी पढ़ें: अब देश में हुई एंटी फंगल ड्रग्स की किल्लत, सरकार बोली- हम जमीन-आसमान एक कर देंगे

हेमाराम चौधरी राजस्थान में जाटों के कद्दावर नेता माने जाते हैं। राजस्थान में वे नेता प्रतिपक्ष व कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं। बाड़मेर के गुड़ामालानी विधानसभा क्षेत्र से वह 6 बार विधायक चुने गए हैं। पिछले साल गहलोत सरकार के खिलाफ मुहिम में वे सचिन पायलट के साथ थे। सूत्रों के मुताबिक पायलट ने उन्हें इस्तीफा न देने के लिए बहुत मनाया लेकिन वह नहीं माने। चौधरी के इस्तीफे के बाद राजस्थान में एक बार फिर गहलोत विरोधी मुहिम जोर पकड़ सकती है।