JNU में ABVP से जुड़े छात्रों को गार्ड्स ने पीटा, स्कॉलरशिप के लिए कर रहे थे प्रदर्शन

छात्रों का आरोप है कि दो साल से उनकी छात्रवृत्ति रुकी हुई थी, उसी को रिलीज किए जाने की मांग को लेकर जेएनयू प्रशासन के पास ग‌ए थे।

Updated: Aug 22, 2022, 08:17 PM IST

JNU में ABVP से जुड़े छात्रों को गार्ड्स ने पीटा, स्कॉलरशिप के लिए कर रहे थे प्रदर्शन

नई दिल्ली। दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में एक बार फिर से चर्चा में है। सोमवार को विश्वविद्यालय के सुरक्षाकर्मियों ने छात्रों के साथ मारपीट की, जिसमें आधा दर्जन छात्रों को चोटें आई हैं। छात्र संगठन ABVP का आरोप है कि स्कॉलरशिप मांगने गए छात्रों के साथ विश्वविद्यालय स्टाफ और गार्ड ने मारपीट की, जिनमें छात्रों को चोट लगी है। घायल छात्रों में ABVP JNU के प्रेसिडेंट रोहित कुमार भी शामिल हैं।

छात्रों का आरोप है कि दो साल से उनकी छात्रवृत्ति रुकी हुई थी, उसी को रिलीज किए जाने की मांग को लेकर जेएनयू प्रशासन के पास ग‌ए थे, लेकिन वहां स्टाफ और गार्ड्स ने उन्हें रोक लिया और मारपीट शुरू कर दी। जिसमें कई छात्रों को चोट आई है। एबीवीपी जेएनयू अध्यक्ष रोहित कुमार ने कहा कि पांच छात्र सुबह करीब 11 बजे छात्रवृत्ति विभाग में गए थे, जो छात्र छात्रवृत्ति के बारे में पूछताछ करने का समय है। रोहित के मुताबिक छात्र बीते दो साल से अधिक समय से परेशान हैं। उन्हें गैर-नेट छात्रवृत्ति नहीं मिल रही है।

घायल छात्रों का कहना है कि वे जल्द ही दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराएंगे। घटनास्थल से जो वीडियो सामने आए हैं। उसमें वर्दीधारी सुरक्षा गार्डों के साथ छात्रों की धक्कामुक्की देखने को मिल रही है। कुछ वीडियो में फर्श पर खून के धब्बे, कूड़ेदान में खून से लथपथ कपड़े और फर्श पर बिखरा हुआ शीशा दिखाया गया है। कई छात्रों ने अपनी चोटों को दिखाते हुए दावा किया है कि उनको सुरक्षा गार्डों द्वारा पीटा गया है। जिससे उनको चोटें आई हैं।

हालांकि, वाम दल से जुड़े छात्रों ने प्रदर्शनकारियों को ही दोषी ठहराया है। जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आईशा घोष ने वीडियो जारी किया है जिसमें देखा जा सकता है कि छात्र गार्ड्स को दौड़ाकर पीट रहे हैं।