उत्तर प्रदेश में एक और बड़ी लापरवाही, एक ही व्यक्ति को लगा दी दो अलग अलग वैक्सीन

महाराजगंज में एक बुज़ुर्ग व्यक्ति को पहले कोवैक्सीन और फिर कोविशील्ड का डोज दे दिया गया, इस मामले के सामने आने के बाद स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है

Updated: Apr 15, 2021, 12:36 PM IST

उत्तर प्रदेश में एक और बड़ी लापरवाही, एक ही व्यक्ति को लगा दी दो अलग अलग वैक्सीन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वैक्सीन को लेकर एक और गंभीर लापरवाही का मामला सामने आया है। राज्य के महाराजगंज ज़िले में एक ही व्यक्ति को दो दो मर्तबा कोरोना की वैक्सीन लगा दी गई। इस मामले के सामने आने के बाद से ही स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है। 

महाराजगंज के रहने वाले एक बुज़ुर्ग को 25 फरवरी को कोवैक्सीन का डोज दिया गया था। पीड़ित को दूसरी डोज 25 मार्च को लगाई जानी थी। लेकिन वे तब वैक्सीन की डोज नहीं लगा पाए। लिहाज़ा वे वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के लिए मंगलवार को महाराजगंज के टीकाकरण केंद्र पहुंचे थे। 

यह भी पढ़ें : उत्तरप्रदेश में बुजुर्ग महिलाओं को कोरोना टीका के बदले लगा दिया एंटी रैबीज वैक्सीन

लेकिन टीकाकरण केंद्र पर उन्हें कोवैक्सीन की जगह उन्हें कोविशील्ड लगा दी गई। जब पीड़ित को इस बात का पता चला तब वे बुरी तरह से डर गए। उन्होंने टीकाकरण केंद्र पर हंगामा मचा दिया। बवाल का पता चलने पर मौके पर डिप्टी सीएमओ आईए अंसारी पहुंचे और बुज़ुर्ग व्यक्ति को समझाने लगे। उन्होंने बुज़ुर्ग व्यक्ति को समझाया कि दो अलग अलग टीके लगने के कारण उनके स्वास्थ्य पर असर नहीं पड़ेगा। फिलहाल बुज़ुर्ग व्यक्ति का स्वास्थ्य ठीक है। 

यह भी पढ़ें : डॉक्टर मैं हूं या तुम हो, कहकर अस्पताल स्टाफ ने बुजुर्ग व्यक्ति को कोरोना टीका की जगह दिया कुत्ते काटने की सुई

डॉक्टर एके श्रीवास्तव ने मीडिया को बताया है कि इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होगा। हालांकि स्वास्थ्य कर्मियों को ऐसी गंभीर लापरवाही से बचने के लिए सख्त हिदायत दी गई है। लेकिन उत्तर प्रदेश में लापरवाही का यह पहला मामला नहीं है। राज्य के ही शामली और हापुड़ ज़िले में कोरोना के टीके की जगह एंटी रैबीज इंजेक्शन लगाए जाने की बात भी सामने आ चुकी है।